S M L

नोटबंदी और GST का असर अफ्रीका जाने वाले पर्यटकों पर भी पड़ा

दक्षिण अफ्रीकी पर्यटन के लिए भारत आठवां सबसे बड़ा बाजार है

Updated On: Feb 16, 2018 04:33 PM IST

Bhasha

0
नोटबंदी और GST का असर अफ्रीका जाने वाले पर्यटकों पर भी पड़ा

भारत में नोटबंदी और माल और सेवा कर (जीएसटी) का असर पिछले साल दक्षिण अफ्रीका जाने वाले पर्यटकों की संख्या पर पड़ा.

साउथ अफ्रीकन टूरिज्म की कार्यकारी प्रमुख हब अल्पा जानी कहा, ‘भारत सरकार की दो पहलों नोटबंदी और जीएसटी का असर पिछले साल यहां से दक्षिण अफ्रीका जाने वाले पर्यटकों पर पड़ा. अपेक्षाकृत काफी कम संख्या में लोग वहां गए और पर्यटन उद्योग अपने लक्ष्य को नहीं छू पाया.’

उन्होंने कहा कि कैलेंडर साल 2017 में भारत से एक लाख पर्यटकों की उम्मीद थी लेकिन नवंबर 2017 तक यह संख्या 89,872 रही. समूचे कैलेंडर वर्ष में यह संख्या 96000 के आसपास रहने की उम्मीद है.

उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक भारतीय पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए साउथ अफ्रीका टूरिज्म भारत के पांच शहरों में रोडशो आयोजित कर रहा है. यह रोडशो मुंबई, कोलकाता, बैंगलोर में हो चुका है, दिल्ली में चल रहा है जबकि इसके बाद अहमदाबाद में होगा.

दक्षिण अफ्रीकी पर्यटन उद्योग का 60 सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल इस रोडशो के लिए भारत में है. जानी ने कहा कि इसके तहत केपटाउन, डरबन व जोहानिसबर्ग जैसे चर्चित बड़े शहरों के साथ साथ प्लेटनबर्ग बे, पोर्ट एलिजाबेथ व ड्रेकनसबर्ग जैसे गैर महानगरों में पर्यटन संभावनाओं के बारे में भी प्रचार प्रसार किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि दक्षिण अफ्रीकी पर्यटन के लिए भारत आठवां सबसे बड़ा बाजार है. जहां युवा जनसंख्या व उनकी खर्च योग्य आय में बढ़ोतरी को देखते हुए बड़ी संभावनाएं हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi