S M L

एयर इंडिया में हिस्सेदारी बेचकर 9,000 करोड़ रुपए जुटाने की फिराक में सरकार

मुंबई में एयरलाइंस हाउस, दिल्ली के वसंत विहार में रीयल्टी संपत्ति और बाबा खड़ग सिंह मार्ग स्थित जमीन बेची जाएगी

Updated On: Dec 05, 2018 06:20 PM IST

Bhasha

0
एयर इंडिया में हिस्सेदारी बेचकर 9,000 करोड़ रुपए जुटाने की फिराक में सरकार

सरकार को कर्ज के बोझ से दबी सार्वजनिक क्षेत्र की विमानन कंपनी एयर इंडिया की भूमि और रीयल एस्टेट संपत्तियों की बिक्री से 9,000 करोड़ रुपए मिलने की उम्मीद है. एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी.

एयर इंडिया की जमीन, इमारत और अन्य रीयल्टी संपत्तियों की बिक्री एयरलाइन के 55,000 करोड़ रुपए के कर्ज के बोझ को कम करने की सरकार की योजना का हिस्सा है. इससे एयर इंडिया प्रतिस्पर्धी हो सकेगी और उस समय इसके लिए बेहतर मूल्यांकन मिलेगा जब सरकार विमानन कंपनी के रणनीतिक विनिवेश की योजना बनाएगी.

ये भी पढ़ें: दिल्लीः डेढ़ महीने से एयर इंडिया की कर्मचारी लापता, 1 करोड़ की मांगी फिरौती

वित्त मंत्री अरुण जेटली की अगुवाई वाली मंत्रिमंडलीय समिति ने पिछले सप्ताह एयर इंडिया के 29,000 करोड़ रुपए के कर्ज को विशेष उद्देशीय इकाई (एसपीवी) एयर इंडिया एसेट होल्डिंग कंपनी में स्थानांतरित करने की अनुमति दी थी. इन संपत्तियों की बिक्री से हासिल कोष का इस्तेमाल एसपीवी में स्थानांतरित किए गए 29,000 करोड़ रुपए के कर्ज को कम करने के लिए किया जाएगा.

9000 करोड़ जुटाएगी सरकार:

एक अधिकारी ने बताया, ‘हम एयर इंडिया की जमीन और अन्य संपत्तियों की बिक्री से 9,000 करोड़ रुपए जुटाने की उम्मीद कर रहे हैं. इसमें मुंबई में एयरलाइंस हाउस, दिल्ली के वसंत विहार में रीयल्टी संपत्ति और बाबा खड़ग सिंह मार्ग स्थित जमीन शामिल है.’

पिछले सप्ताह एयर इंडिया के विनिवेश पर मंत्री स्तरीय समिति ने एयर इंडिया की ग्राउंड हैंडलिंग अनुषंगी एयर ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लि. (एआईएटीएसएल) की रणनीतिक बिक्री को मंजूरी दी थी. एआईएटीएसएल की बिक्री से प्राप्त राशि का इस्तेमाल भी एसएपीवी में रखे गए कर्ज को कम करने के लिए किया जाएगा. एआईएटीएसएल ने वित्त वर्ष 2016-17 में 61.66 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया था.

यह भी पढ़ें: स्वीडनः टर्मिनल पर बिल्डिंग से टकराई एयर इंडिया की फ्लाइट, 179 यात्री सुरक्षित

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi