S M L

जुलाई 2019 से कारों में एयरबैग, स्पीड अलर्ट, पार्किंग सेंसर जरूरी

सरकार के नियम के मुताबिक कार कंपनियों को सभी कारों में एयरबैग, सीट बेल्ट वॉर्निग सिस्टम, स्पीड वॉर्निग सिस्टम और रिवर्स पार्किंग सेंसर जैसे सेफ्टी फीचर्स देना जरूरी होगा

Updated On: Oct 29, 2017 02:55 PM IST

FP Staff

0
जुलाई 2019 से कारों में एयरबैग, स्पीड अलर्ट, पार्किंग सेंसर जरूरी

देश में हर साल सड़क दुर्घटनाओं में लाखों लोगों की जान चली जाती है. सरकार ने अब सड़क हादसों में कमी लाने के लिए कड़े कदम उठाने का निर्णय लिया है. 1 जुलाई, 2019 के बाद से कार निर्माण करने वाली कंपनियों को सभी कारों में एयरबैग, सीट बेल्ट वॉर्निग सिस्टम, स्पीड वॉर्निग सिस्टम और रिवर्स पार्किंग सेंसर जैसे सेफ्टी फीचर्स देना जरूरी होगा.

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक केंद्रीय सड़क परिवहन और राज्यमार्ग मंत्रालय ने ये सिस्टम लागू करने की समय सीमा तय कर दी है. इस संबंध में अधिसूचना कुछ दिन में जारी हो जाएगी. अब तक ये फीचर्स केवल महंगी कारों में ही होते हैं.

परिवहन मंत्रालय से जुड़े एक सूत्र के अनुसार, नई कारों में ऐसा सिस्टम लगाया जाएगा जो रफ्तार के 80 किमी प्रति घंटा से अधिक होने पर ऑडियो अलर्ट देगा. स्पीड 100 किलोमीटर प्रति घंटा से अधिक होने पर इस अलर्ट की आवाज और भी तेज हो जाएगी. जबकि 120 किलोमीटर प्रति घंटा से अधिक स्पीड होने पर यह लगातार बजता रहेगा.

used_cars

सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए नए नियम

पावर फेल्योर की स्थिति में सेंट्रल लॉकिंग सिस्टम ने अगर काम करना बंद कर दिया तो मैनुअल ओरवाराइड सिस्टम से ड्राइवर और यात्री आसानी से कार के बाहर निकल सकेंगे. रिवर्स पार्किंग के दौरान होने वाले दुर्घटनाओं को कम करने के लिए कारों में रिवर्स पार्किंग अलर्ट दिया जाएगा. कार जब रिवर्स गियर में बैक जा रही होगी तब ड्राइवर को रियर मॉनिटरिंग रेंज के हिसाब से पता चलता रहेगा कि कोई वस्तु है या नहीं.

परिवहन मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि एयरबैग और रिवर्स पार्किंग सेंसर्स को शहरों में चलने वाले हल्के कमर्शियल वाहनों (एलसीवी) के लिए भी अनिवार्य किया जाएगा. कुछ कारों ने इनमें से कई फीचर अभी से देना शुरू कर दिया है.

भारत में साल 2016 में सड़क दुर्घटनाओं में मरने वाले 1.5 लाख लोगों में से लगभग 74 हजार लोगों की जिंदगी ओवर स्पीडिंग की भेंट चढ़ गई.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi