S M L

NPA के निपटने के लिए सरकार बनाएगी मजबूत तंत्र: गोयल

वित्त मंत्री ने कहा फंसे कर्ज खातों के तेजी से समाधान के लिए एक संपत्ति पुनर्गठन कंपनी बनाने पर सुझाव देने के वास्ते एक समिति बनाई जाएगी

FP Staff Updated On: Jun 08, 2018 06:22 PM IST

0
NPA के निपटने के लिए सरकार बनाएगी मजबूत तंत्र: गोयल

वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को 11 सरकारी बैंक प्रमुखों से मुलाकात की. इस मुलाकात में बैंकिंग सिस्टम की दिक्कतों को सुलझाने पर चर्चा हुई. चौथी तिमाही के नतीजों के बाद यह पहली मीटिंग थी.

वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने इस मीटिंग के बाद कहा कि बैंक दबाव वाले कर्ज खातों के पारदर्शी और त्वरित समाधान करने के लिए एक प्रणाली स्थापित करने पर विचार कर रहे हैं. वित्त मंत्री ने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक प्रमुखों के साथ एनपीए और अन्य मुद्दों पर विचार विमर्श किया.

वित्त मंत्री ने कहा कि स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के पास सालों से कर्ज संबंधी फैसलों के तेजी से निपटारे के लिए एक ठोस और पारदर्शी प्रक्रिया मौजूद है.

पीयूष गोयल ने कहा कि एसबीआई द्वारा सालों के अनुभव के आधार पर एक प्रजेंटेशन दिया गया और मुझे यह महसूस हुआ कि बैंकर अब चाहते हैं कि दबाव वाले खातों या एनपीए के तेजी से पारदर्शी तरीके से निपटारे के लिए कोई तंत्र विकसित किया जाए.

वित्त मंत्री ने कहा फंसे कर्ज खातों के तेजी से समाधान के लिए एक संपत्ति पुनर्गठन कंपनी बनाने पर सुझाव देने के वास्ते एक समिति बनाई जाएगी. इस समिति में रिटायर जजों, विजिलेंस अफसरों, रेगुलेटर्स और कुछ बाहरी विशेषज्ञों को शामिल किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि सरकार सार्वजनिक क्षेत्र के सभी 21 बैंकों को समर्थन देने, प्रक्रिया को मजबूत बनाने और उपभोक्ता हित की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के निदेशक मंडल में खाली पड़े सभी पदों को अगले 30 दिन में भर दिया जाएगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi