S M L

2022 तक ई-कॉमर्स क्षेत्र का राजस्व 52 अरब डॉलर तक पहुंचेगा: रिपोर्ट

रिपोर्ट के मुताबिक 2020 तक मोबाइल कॉमर्स की ई-कामर्स राजस्व में 70 प्रतिशत भागीदारी होगी

FP Staff Updated On: Jun 24, 2018 04:19 PM IST

0
2022 तक ई-कॉमर्स क्षेत्र का राजस्व 52 अरब डॉलर तक पहुंचेगा: रिपोर्ट

देश में ऑनलाइन खुदरा कारोबार का राजस्व 2017 में 25 अरब डालर था. जिसके 20.2 प्रतिशत सालाना की वृद्धि के साथ 2022 तक 52 अरब डॉलर होने की उम्मीद है. डिजिटल और मार्केटिंग कंपनी एडमिटेड की एक रिपोर्ट के अनुसार 2017 में जनसंख्या में 37 प्रतिशत लोग इंटरनेट का उपयोग करते थे. जिनमें से 14 प्रतिशत ही नियमित रूप से ऑनलाइन खरीदारी कर रहे थे.

रिपोर्ट के मुताबिक जनसंख्या में इंटरनेट उपयोक्ताओं की यह भागीदारी 2021 तक बढ़कर 45 प्रतिशत होने की उम्मीद है. इसी तरह ऑनलाइन खरीदारों की संख्या भी बढ़कर 90 प्रतिशत होने की उम्मीद है. रिपोर्ट के अनुसार ज्यादातर खरीद डेस्कटॉप के जरिए की जा रही है. 56 प्रतिशत लोगों ने डेस्कटॉप से खरीद की है जबकि ऑनलाइन खरीद में स्मार्टफोन का हिस्सा 30 प्रतिशत ही है.

हालांकि रिपोर्ट के मुताबिक 2020 तक मोबाइल घनत्व बढ़कर जनसंख्या का 54 फीसदी होने की उम्मीद है. ऐसे में भारत में मोबाइल कॉमर्स से बड़ी उम्मीद हैं. और माना जा रहा है कि इसकी ई-कामर्स राजस्व में 70 प्रतिशत भागीदारी होगी.

रिपोर्ट के अनुसार लगभग 57 प्रतिशत भारतीय भुगतान के समय नकदी का प्रयोग करते हैं. वहीं 15 प्रतिशत डेबिट कार्ड से जबकि 11 प्रतिशत क्रेडिट कार्ड से भुगतान करते हैं. रिपोर्ट में कहा गया है, 'हालांकि निकट भविष्य में यह सब बदलने वाला है. मोबाइल उपयोक्ताओं की बढ़ती संख्या के साथ सरकार नागरिकों को गैर नकदी वाले भुगतान के लिए प्रोत्साहित कर रही है. और आने वाले दशक में डिजिटल लेनदेन में बढ़ोतरी होनी चाहिए.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi