S M L

'हिंदू पाकिस्तान' के बाद अब शशि थरूर के 'हिंदू तालिबान' बयान से विवाद

कांग्रेस सासंद ने तिरुवनंतपुर में मंगलवार को एक कार्यक्रम में कहा, 'बीजेपी के लोग कह रहे थे कि मैं पाकिस्‍तान चला जाऊं. मैं पूछना चाहता हूं कि मैं हिंदू हूं या नहीं, यह तय करने का हक उन्हें किसने दिया? मैं कहां रहूं, कहां नहीं, यह तय करने वाले ये कौन हैं? क्‍या वो लोग हिंदुत्‍व के अंदर तालिबान की शुरुआत नहीं कर रहे हैं?'

Updated On: Jul 18, 2018 03:46 PM IST

FP Staff

0
'हिंदू पाकिस्तान' के बाद अब शशि थरूर के 'हिंदू तालिबान' बयान से विवाद

कांग्रेस के सांसद शशि थरूर ने एक और विवादित बयान दिया है. थरूर ने 'हिंदू पाकिस्तान' के बाद अब 'हिंदू तालिबान' को लेकर बयान दिया. केरल के तिरुवनंतपुरम से सांसद थरूर ने कहा, 'देश में बीजेपी और आरएसएस 'हिंदू तालिबान' की शुरुआत कर रही है.'

शशि थरूर ने मंगलवार को एक कार्यक्रम में कहा, 'बीजेपी के लोग कह रहे थे कि मैं पाकिस्‍तान चला जाऊं. मैं पूछना चाहता हूं कि मैं हिंदू हूं या नहीं, यह तय करने का हक उन्हें किसने दिया? मैं कहां रहूं, कहां नहीं, यह तय करने वाले ये कौन हैं? क्‍या वो लोग हिंदुत्‍व के अंदर तालिबान की शुरुआत नहीं कर रहे हैं?'

दरअसल, 'हिंदू पाकिस्तान' वाले बयान के बाद बीजेपी नेताओं ने शशि थरूर को पाकिस्तान जाने की नसीहत दी थी. इस पर ही थरूर ने बीजेपी-आरएसएस को जवाब दिया.

सोमवार को शशि थरूर के तिरुवनंतपुरम स्थित दफ्तर में कुछ उपद्रवियों ने जमकर तोड़फोड़ की थी. उपद्रवियों ने उनके दफ्तर की दीवारों पर काला तेल भी फेंका था. थरूर का आरोप है कि इस हमले के पीछे बीजेपी युवा मोर्चा के सदस्यों का हाथ है.

उन्होंने कहा, 'लोग अपनी समस्याएं लेकर आते हैं, लेकिन आप उन्हें डराकर दूर भगा देते हैं. क्या यही हम अपने देश में चाहते हैं? यह बात मैं एक सांसद के नाते नहीं, बल्कि एक आम नागरिक होने के रूप में पूछ रहा हूं. जहां तक मैं जानता और समझता हूं, उस हिसाब से यह हिंदुत्व कतई नहीं है.'

बता दें कि हाल ही में शशि थरूर ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा था कि अगर बीजेपी 2019 के लोकसभा चुनाव में जीतती है, तो इससे देश 'हिंदू पाकिस्तान' बन जाएगा. बाद में थरूर ने अपने बयान पर माफी मांग ली थी. हालांकि, कोलकाता की एक अदालत ने उनके 'हिंदू पाकिस्तान' वाले बयान पर समन भेजा है.

वकील सुमित चौधरी ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर कांग्रेस नेता के इस बयान पर आपत्ति दर्ज कराई थी. जिसके बाद कोर्ट ने समन भेजा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi