S M L

Budget 2019: क्या इस बार ऑटो सेक्टर को मिलेगी बजट से रफ्तार?

देश का अंतरिम बजट 1 फरवरी को वित्‍त मंत्री का प्रभार संभाल रहे रेल मंत्री पीयूष गोयल पेश करेंगे.

Updated On: Jan 24, 2019 10:30 PM IST

FP Staff

0
Budget 2019: क्या इस बार ऑटो सेक्टर को मिलेगी बजट से रफ्तार?

1 फरवरी 2019 को देश का आम बजट पेश होने वाला है. वहीं बजट को लेकर ऑटो सेक्टर को भी काफी उम्मीदें है.

Zeebiz के मुताबिक विश्व की चौथी सबसे बड़ी ऑटो इंडस्ट्री को इस बार बजट से काफी उम्मीदें है. ऑटो सेक्टर ने उम्मीद जताई है कि बजट 2019 न केवल ग्राहक भावना का उत्थान करेगा, बल्कि इलेक्ट्रिक वाहनों समेत उद्योग के लिए एक सकारात्मक वातावरण को बढ़ावा देगा. ऑटो सेक्टर को उम्मीद है कि आने वाले सालों में मध्यम वर्ग और युवा आबादी की आय में बढ़ोतरी से वाहनों की मांग बढ़ेगी.

लोहिया ऑटो इंडस्ट्रीज के सीईओ आयुष लोहिया ने कहा कि सरकार को फास्टर एडॉप्शन एंड मैन्युफैक्चरिंग ऑफ हाइब्रिड एंड इलेक्ट्रिक व्हिकल (FAME) स्कीम में कम से कम 10 साल का विस्तार देना चाहिए. लोहिया ने कहा 'ऑटोमोबाइल उद्योग के खिलाड़ी FAME योजना के तहत इलेक्ट्रिक मोबिलिटी के लिए प्रोत्साहन योजना के विस्तार की दिशा में काम कर रहे हैं. यह आगामी केंद्रीय बजट से न्यूनतम 10 सालों के विस्तार के साथ सकारात्मक प्रतिक्रिया की उम्मीद कर रहा है. इस विस्तार से भारत के इलेक्ट्रिक वाहन लक्ष्य को हासिल करने में मदद मिलेगी. इससे उद्योग को पुनर्जीवित करने में मदद मिलेगी.'

वहीं जीएसटी स्लैब में भी कटौती की उम्मीद की जा रही है. फिलहाल वाहन हाई जीएसटी स्‍लैब 28 फीसदी के दायरे में मौजूद हैं. साथ ही लंबाई, इंजन के आकार और प्रकार के कारण एक से 15 फीसदी का सेस भी लगाया जाता है. इसमें भी कटौती की उम्मीद जताई जा रही है.

वहीं देश का अंतरिम बजट 1 फरवरी को वित्‍त मंत्री का प्रभार संभाल रहे रेल मंत्री पीयूष गोयल पेश करेंगे. दरअसल, बजट से ऐन पहले विदेश में इलाज करा रहे अरुण जेटली की जगह पीयूष गोयल को वित्त मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi