S M L

कोटक बैंक को झटका, प्रमोटर हिस्सेदारी बेचने की नहीं बढ़ेगी डेडलाइन

बॉम्बे हाईकोर्ट के फैसले के बाद सोमवार को बीएसई पर शेयर 4.37 फीसदी गिरकर 1210.55 रुपए के निचले स्तर पर आ गया. जिससे कंपनी का मार्केट कैप 10,500 करोड़ रुपए से ज्यादा घट गया

Updated On: Dec 17, 2018 05:58 PM IST

FP Staff

0
कोटक बैंक को झटका, प्रमोटर हिस्सेदारी बेचने की नहीं बढ़ेगी डेडलाइन

बॉम्बे हाईकोर्ट ने कोटक महिंद्रा बैंक के प्रमोटर की हिस्सेदारी मामले में रोक से इनकार कर दिया है. इसपर RBI की डेडलाइन बरकरार रहेगी. इसके पहले RBI ने प्रीफरेंशियल शेयर इश्यू के जरिए कोटक महिंद्रा बैंक में प्रमोटर्स की होल्डिंग घटाने पर रोक लगा दी थी. इसके बाद कोटक बैंक ने RBI के इस फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी.

अब बॉम्बे हाईकोर्ट के इस मामले पर इनकार के बाद सोमवार को बीएसई पर शेयर 4.37 फीसदी गिरकर 1210.55 रुपए के निचले स्तर पर आ गया. जिससे कंपनी का मार्केट कैप 10,500 करोड़ रुपए से ज्यादा घट गया.17 जनवरी को हाईकोर्ट में मामले की अगली सुनवाई होगी. उदय कोटक ने PNCPS के जरिए हिस्सा घटाया था. 31 दिसंबर तक प्रोमोटर को हिस्सेदारी 20 फीसदी करना है.

कोटक बैंक के अलावा भी कई बैंक आरबीआई के निशाने पर

कई दूसरे बैंकों पर भी आरबीआई की तलवार चली है. इनमें इक्विटास उज्जीवन, बंधन बैंक, यस बैंक शामिल हैं. आरबीआई ने इक्विटास को सितंबर 2019 तक लिस्ट कराने को कहा है.उज्जीवन को जनवरी 2020 तक लिस्ट कराने का निर्देश दिया है. बंधन बैंक पर नई शाखाएं खोलने पर रोक लगा दी है. बैंधन बैंक को सीईओ की सैलरी बढ़ाने से भी रोका है और यस बैंक को जनवरी 2019 तक एमडी बदलने को कहा है. अब ये बैंक भी अदालत जाने का विकल्प अपना सकते हैं.

बॉम्बे हाईकोर्ट के इस मामले पर रोक लगाने से इनकार के बाद कारोबार के दौरान बीएसई पर कोटक महिंद्रा बैंक का शेयर 4.37 फीसदी टूटकर 1210.55 रुपए के निचले स्तर पर लुढ़क गया. शेयर में गिरावट से बैंक का मार्केट कैप 10,561 करोड़ रुपए घट गया

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi