S M L

दिसंबर के दूसरे पखवाड़े में बैंकों की लोन और डिपॉजिट ग्रोथ में इजाफा

बैंक कर्ज में 15.11 प्रतिशत और जमा में 9.22 प्रतिशत वृद्धि

Updated On: Jan 02, 2019 09:40 PM IST

Bhasha

0
दिसंबर के दूसरे पखवाड़े में बैंकों की लोन और डिपॉजिट ग्रोथ में इजाफा

रिजर्व बैंक के ताजा आंकड़ों के मुताबिक 21 दिसंबर को खत्म होने वाले पखवाड़े में बैंकों के लोन देने में तेजी आई है. इस दौरान बैंक लोन 15.11 फीसदी बढ़कर 92.87 लाख करोड़ रुपए पर पहुंच गया. एक साल पहले बैंकों ने 80.68 लाख करोड़ रुपए का लोन बांटा था.

इस दौरान अगर डिपॉजिट की बात करें तो उसमें भी तेजी आई है. सालाना आधार पर डिपॉजिट की ग्रोथ रेट 9.22 फीसदी रही. 16 दिसंबर से 21 दिसंबर के बीच बैंकों का टोटल डिपॉजिट 118.18 लाख करोड़ रुपए के पार निकल गया. पिछले साल डिपॉजिट का आंकड़ा 108.21 लाख करोड़ रुपए था.

दिसंबर के पहले पखवाड़े में भी तेजी

दिसंबर से पहले पखवाड़े यानी 1 दिसंबर से 15 दिसंबर के बीच लोन और डिपॉजिट दोनों में तेजी आई है. बैंकों की लोन ग्रोथ बढ़ने से इकोनॉमिक ग्रोथ रेट और रोजगार में भी तेजी आएगी. MSME सेक्टर की कंपनियों को लोन रीस्ट्रक्चरिंग से जुड़े मामलों में छूट देने से इसमें और तेजी आ सकती है.

रिजर्व बैंक की Financial sustainability report में कहा गया है कि मार्च से सितंबर 2018 के दौरान बैंकों के लोन बांटने में जो तेजी आई है उसमें सबसे ज्यादा योगदान प्राइवेट बैंकों का है. इस दौरान प्राइवेट बैंकों की लोन ग्रोथ मार्च 2018 के 21.3 फीसदी से बढ़कर सितंबर 2018 में 22.5 फीसदी पर पहुंच गई है.

सरकारी बैंकों का भी प्रदर्शन बेहतर

इस दौरान सरकारी कंपनियों के लोन ग्रोथ में भी तेजी आई है. मार्च 2018 में इन बैंकों की लोन ग्रोथ 5.9 फीसदी थी. सितंबर 2018 में यह बढ़कर 9.1 फीसदी पर पहुंच गई. मार्च से सितंबर 2018 के बीच सरकारी बैंकों के डिपॉजिट में भी इजाफा हुआ है और वह 3.2 फीसदी से बढ़कर 5 फीसदी पर पहुंच गई.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi