S M L

जीएसटी और नोटबंदी का सकारात्मक प्रभाव पड़ा: अरुण जेटली

वित्त मंत्री ने कहा कि यदि अगले एक-दो दशक में भारत को उच्च आर्थिक समूह वाले देशों में शामिल होने की चुनौती पूरी करनी है

Updated On: Oct 08, 2017 01:31 PM IST

Bhasha

0
जीएसटी और नोटबंदी का सकारात्मक प्रभाव पड़ा: अरुण जेटली

नरेंद्र मोदी सरकार की स्वच्छ भारत, जीएसटी तथा नोटबंदी जैसी पहलों का सकारात्मक प्रभाव पड़ा है. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बर्कले इंडिया कान्फ्रेंस को शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करते हुए यह बात कही.

जेटली ने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी जैसे कदमों ने अर्थव्यवस्था में टैक्स अनुपालन बढ़ाने और नकदी को कम करने में भूमिका निभाई है. वित्त मंत्री ने कहा कि केंद्र और राज्य स्तर पर सरकार की ओर से किए गए सुधारों को जनता का समर्थन मिला है.

उन्होंने कहा, ‘मैं उम्मीद करता हूं कि भारत एक बार फिर अपनी वृद्धि दर हासिल कर लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करेगा. हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि न केवल हमें बड़ी आबादी की जरूरतों को पूरा करना है, बल्कि एक बड़ी युवा आबादी की जरूरतों को भी पूरा करना है.’

आईएमएफ की बैठक में शामिल होने जा रहे हैं वित्त मंत्री 

केंद्रीय वित्त मंत्री जेटली सोमवार को एक हफ्ते की अमेरिका यात्रा पर पहुंचेंगे. वह न्यूयॉर्क और बोस्टन में अमेरिकी कॉर्पोरेट जगत के दिग्गजों के साथ परिचर्चा करेंगे. साथ ही वॉशिंगटन डीसी में अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (आईएमएफ) और विश्व बैंक की सालाना बैठक में हिस्सा लेंगे.

जेटली ने कहा कि युवा आबादी के साथ यह अवधारणा भी बन रही है कि उनकी जरूरतों को पूरा नहीं किया जा रहा. इसके साथ ही यह बात भी है कि वे अब अधिक से अधिक आकांक्षी हो रहे हैं.

वित्त मंत्री ने कहा कि यदि अगले एक-दो दशक में भारत को उच्च आर्थिक समूह वाले देशों में शामिल होने की चुनौती पूरी करनी है, तो हमें अधिक तेज रफ्तार से बढ़ना होगा.

उन्होंने इस धारणा को खारिज कर दिया कि स्वच्छ भारत, जीएसटी और नोटबंदी जैसी बदलाव वाली पहलों के जमीनी स्तर पर नतीजे नहीं मिले हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi