S M L

पहले से कर्ज में डूबी एयर इंडिया ने मांगा 1500 करोड़ का लोन

कर्ज के बोझ तले दबी एयर इंडिया वित्तीय संकट और कठोर प्रतिस्पर्धा समेत कई मुद्दों से जूझ रही है

Bhasha Updated On: Oct 20, 2017 07:04 PM IST

0
पहले से कर्ज में डूबी एयर इंडिया ने मांगा 1500 करोड़ का लोन

सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया ने इमीडियेट वर्किंग कैपिटल की जरुरतों को पूरा करने के लिए 1,500 करोड़ रुपए के शॉर्ट-टर्म लोन की मांग की है. इसकी जानकारी कंपनी के एक दस्तावेज से हुई है.

एक महीने से कुछ अधिक वक्त में यह दूसरी बार है जब एयर इंडिया ने शॉर्ट-टर्म लोन के लिए टेंडर जारी की है. वहीं, दूसरी ओर सरकार हिस्सेदारी बेचने की रूपरेखा पर काम कर रही है.

कर्ज के बोझ तले दबी सरकारी विमानन कंपनी वित्तीय संकट और कड़ी प्रतिस्पर्धा समेत कई मुद्दों से जूझ रही है.

बढ़ाया जा सकता है ऋण की अवधि को 

18 अक्टूबर को जारी दस्तावेज में एयर इंडिया ने कहा, ‘वह इमीडियेट वर्किंग कैपिटल आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए सरकारी गारंटी के समर्थन वाली 1500 करोड़ रुपए तक की शॉर्ट-टर्म लोन की तलाश में है.’

लोन की अवधि जारी होने की तिथि से 27 जून 2018 तक होगी और इस अवधि को आगे भी बढ़ाया जा सकता है.

दस्तावेज में कहा गया है कि भारत सरकार की गारंटी 27, जून 2018 तक या इन्वेस्टमेंट की तिथि तक वैध रहेगी.

लोन के बारे में एयर इंडिया ने बैंकों से अनुरोध किया है कि वह वित्तीय बोली के साथ दी जाने वाली राशि के बारे में जानकारी 26 अक्टूबर तक जमा करें.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi