S M L

अगर 28 दिसंबर तक नहीं कराया यह काम तो बंद हो जाएंगे SBI के एटीएम कार्ड

बैंक ने अपनी वेबसाइट https://bank.sbi/portal/web/personal-banking/magstripe-debit-cardholders पर दी है इसकी जानकारी

Updated On: Nov 27, 2018 10:44 PM IST

FP Staff

0
अगर 28 दिसंबर तक नहीं कराया यह काम तो बंद हो जाएंगे SBI के एटीएम कार्ड

देश के सबसे बड़ा सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) का कोई ग्राहक अगर 28 नवंबर तक अपना एटीएम नहीं बदलवाता है, तो उसका एटीएम कार्ड (डेबिट कार्ड) ब्लॉक कर दिया जाएगा. इस संबंध में एसबीआी अपने ग्राहकों को एक खास SMS भी भेज रहा है. बैंक ने ग्राहकों को बेहतर सर्विस और उनके पैसों की सुरक्षा के लिए यह कदम उठाया है.

क्या है वो खास एसएमएस:

बैंक का कहना है कि 28 नवंबर 2018 से एसबीआई मैजिस्ट्रिप (मैग्नेटिक) डेबिट कार्ड ब्लॉक हो जाएगा. आपके पते पर भेजा गया ईएमवी कार्ड जल्दी एक्टिवेट कर लीजिए. बैंक का कहना है कि ऐसा आरबीआई की जारी गाइडलाइंस पर किया जा रहा है.

पुराने कार्ड मैजिस्ट्रिप (मैग्नेटिक) डेबिट कार्ड हैं. इनके बदले में बैंक नए जमाने के चिप वाले ईएमवी कार्ड दे रहे हैं. बैंक ने अपने सभी ग्राहकों को 31 दिसंबर तक कार्ड बदलने की डेडलाइन दी है.

अगर आपके पास भी अपने पुराने मैजिस्ट्रिप (मैग्नेटिक) डेबिट कार्ड हैं तुरंत बदल लीजिए क्योंकि पुराने कार्ड बंद हो रहे हैं. इसके बदले ग्राहकों को ईएमवी चिप वाला डेबिट कार्ड लेना होगा. इसकी अंतिम तारीख 31 दिसंबर 2018 है. अगर आपने ऐसा नहीं किया तो आप अपने पुराने एटीएम से कोई भी काम नहीं कर पाएंगे, क्योंकि बैंकों की एटीएम मशीनें आपके कार्ड को स्वीकार नहीं करेंगी.

बैंक की ओर से ट्विट कर दी गई जानकारी के मुताबिक, पुराने ATM कार्ड बदलकर उनकी जगह EVM चिप वाला डेबिट कार्ड जारी किया जा रहा है. नए कार्ड के लिए आप ऑनलाइन बैंकिंग से अप्लाई कर सकते हैं. इसके अलावा बैंक की ब्रांच में जाकर अप्लाई करना होगा. बैंक ने फरवरी 2017 से पुराने कार्ड बंद कर दिए हैं. 31 दिसंबर 2018 से इन्हें पूरी तरह बंद किया जा रहा है.

SBI

बैंक ने अपनी वेबसाइट पर दी हैं इसकी जानकारी-

https://bank.sbi/portal/web/personal-banking/magstripe-debit-cardholders

क्यों बंद हो रहे हैं पुराने कार्ड:

पुराने ATM और डेबिट कार्ड के पीछे की तरफ एक काली पट्टी नजर आती है. यही काली पट्टी मैग्नेटिक स्ट्रिप है. इसमें आपके खाते की पूरी जानकारी दर्ज होती है. ATM में इसे डालने के बाद पिन नंबर डालते ही आप अपने खाते से पैसे निकल पाते हैं. खरीदारी के समय ऐसे कार्ड्स को स्‍वाइप किया जाता है.

मैग्‍नेटिक स्‍ट्राइप कार्ड नहीं हैं सुरक्षित:

रिजर्व बैंक के अनुसार, मैग्‍नेटिक स्‍ट्राइप कार्ड अब पुरानी टेक्‍नोलॉजी हो चुकी है. ऐसा कार्ड बनना अब बंद भी हो गया है, क्‍योंकि ये कार्ड पूरी तरह से सुरक्षित नहीं थे. इसकी वजह से इन्‍हें बंद कर दिया गया है. अब इनकी जगह EMV चिप कार्ड को तैयार किया गया है. सभी पुराने कार्ड को नए चिप कार्ड से बदला जाएगा.

ज्‍यादा सुरक्षित हैं नए EVM चिप वाले कार्ड:

EVM चिप वाले डेबिट या क्रेडिट कार्ड पर एक छोटी चिप लगी होगी, जिसमें आपके खाते की पूरी जानकारी होती है. यह जानकारी इनक्रिप्टेड होती है, ताकि कोई इसके डाटा की चोरी न कर सके. EMV चिप कार्ड में ट्रांजैक्‍शन के दौरान यूजर को सत्‍यापित करने के लिए एक यूनिक ट्रांजेक्‍शन कोड जनरेट होता है, जो वेरिफिकेशन को सर्पोट करता है जबकि मैग्‍नेटिक स्‍ट्राइप कार्ड में ऐसा नहीं होता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi