S M L

क्यों और कब मनाई जाती है वैकुंठ एकादशी

ऐसी मान्यता है कि इस दिन भगवान विष्णु का निवास स्थान वैकुंठ के द्वार खुल जाते हैं और इस दिन एकादशी का व्रत रखने वाले को स्वर्ग की प्राप्ति होती है

FP Staff Updated On: Nov 25, 2017 01:32 PM IST

0
क्यों और कब मनाई जाती है वैकुंठ एकादशी

भारत जैसे विविधताओं वाले देश में कई पर्व, त्योहार और व्रत हैं. इन सबका अपना अलग महत्व और मान्यता है. ऐसा ही एक व्रत है वैकुंण एकादशी का. वैष्णव यानी भगवान विष्णु को मानने वाले इस पर्व को बड़ी धूम-धाम से मनाते हैं.

यह हिंदू कैलेंडर में धनुर सौर माह के दौरान पड़ती है. एक एकादशी कृष्ण पक्ष तो दूसरी शुक्ल पक्ष के दौरान पड़ती है. शुक्ल पक्ष में पड़ने वाली एकादशी को ही वैकुंण एकादशी कहते हैं.

ऐसी मान्यता है कि इस दिन भगवान विष्णु का निवास स्थान वैकुंठ के द्वार खुल जाते हैं और इस दिन एकादशी का व्रत रखने वाले को स्वर्ग की प्राप्ति होती है. इस व्रत को मुक्कोटी एकादशी के नाम से भी जाना जाता है. इसका दक्षिण भारत में खास महत्व है. इस दिन तिरुपति मंदिर में बेहद खास पूजा की जाती है.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
गोल्डन गर्ल मनिका बत्रा और उनके कोच संदीप से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi