S M L

पितृ पक्ष 2018: श्राद्ध के आखिरी दिन इन कामों को करने से बचें, नहीं तो...

हिन्दू धर्म में मृत्यु के बाद श्राद्ध करना बेहद जरूरी माना जाता है. वहीं श्राद्ध के आखिरी दिन कुछ काम नहीं करने चाहिए.

Updated On: Oct 07, 2018 09:24 PM IST

FP Staff

0
पितृ पक्ष 2018: श्राद्ध के आखिरी दिन इन कामों को करने से बचें, नहीं तो...

हिन्दू धर्म में मृत्यु के बाद श्राद्ध करना बेहद जरूरी माना जाता है. मान्यतानुसार अगर किसी मनुष्य का विधिपूर्वक श्राद्ध और तर्पण न किया जाए तो उसे इस लोक से मुक्ति नहीं मिलती और वह प्रेत योनि के रूप में इस संसार में ही रह जाता है. इस साल पितृ पक्ष 24 सितंबर 2018 से शुरू हुआ था और 9 अक्टूबर 2018 को इसका आखिर दिन है. हालांकि श्राद्ध के आखिरी दिन कुछ विशेष बातों का ध्यान भी रखना चाहिए.

आइए जानते हैं श्राद्ध के आखिरी दिन क्या काम करना चाहिए और क्या नहीं...

-शराब और मांस को हाथ नहीं लगाना चाहिए.

-रात में श्राद्ध कर्म नहीं करना चाहिए.

-किसी दूसरे व्यक्ति के घर या जमीन पर श्राद्ध कर्म नहीं करना चाहिए.

-श्राद्ध में योग्य ब्राह्मणों को भोजन करवाना जरूरी होता है.

-श्राद्ध में चांदी के बर्तनों का इस्तेमाल करने से पुण्य मिलता है. ब्राह्मणों को भोजन करवाने के लिए भी चांदी के बर्तनों का इस्तेमाल करना सही माना जाता है.

-ब्राह्मणों को भोजन परोसते वक्त मौन रहना चाहिए.

-श्राद्ध कर्म में गाय का घी, दूध या दही काम में लेना चाहिए.

-श्राद्ध कर्म के वक्त अगर कोई भिखारी आए तो उसे भी सम्मान के साथ भोजन करवाना चाहिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi