S M L

महाशिवरात्रि कांवड़ यात्रा: जानिए क्या है भगवान शिव को जल चढ़ाने का शुभ मुहूर्त और समय

भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए मासिक शिवरात्रि का दिन उत्तम है. इस बार मासिक शिवरात्रि सावन मास के कृष्णपक्ष की चतुर्दशी को पड़ रही है

FP Staff Updated On: Aug 08, 2018 03:17 PM IST

0
महाशिवरात्रि कांवड़ यात्रा: जानिए क्या है भगवान शिव को जल चढ़ाने का शुभ मुहूर्त और समय

सावन का महीना चल रहा है. ऐसे में गुरुवार यानी 9 अगस्त का दिन बेहद खास है. 28 जुलाई से शुरू हुई कांवड़ यात्रा गुरुवार को खत्म हो जाएगी. गुरुवार को मासिक शिवरात्रि के दिन कांवड़ यात्री भगवान शिव का जलाभिषेक करेंगे. शास्त्रों के अनुसार हर महीने की चतुर्दशी तिथि मासिक शिवरात्रि के तौर पर मनाई जाती है.

कहते हैं भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए मासिक शिवरात्रि का दिन उत्तम है. इस बार मासिक शिवरात्रि सावन मास के कृष्णपक्ष की चतुर्दशी को पड़ रही है.

क्या है शुभ मुहूर्त

मासिक शिवरात्रि के दिन प्रदोष व्रत भी रखा जाता है. प्रदोष काल का समय सूर्यास्त से लेकर आधी रात तक होता है. बताया जाता है कि प्रदोष काल में भगवान शिव  का रुद्राभिषेक करने से सभी इच्छाएं पूरी होती है.

इस बार मासिक शिवरात्रि का मुहूर्त 8 अगस्त को रात 12 बजे से शुरू होकर 9 अगस्त दोपहर 1 बजकर 2 मिनट तक रहेगा. इस दौरान ही भगवान शिव को जल चढ़ाया जाएगा. जो भी भक्त कांवड़ लेकर आए हैं वह समय का खास ध्यान रखें. वहीं प्रदोष काल का मुहूर्त शाम 7 बजकर 1 मिनट से रात के 9 बजकर 11 मिनट तक रहेगा.

पूजाविधि

मासिक शिवरात्रि के दिन विधिपूर्वक पूजा करने से हर मनोकामना पूरी हो जाती है. साथ ही मान्यता है कि इस दिन व्रत रखने से स्वर्ग की प्राप्ति होती है. शिवरात्रि के व्रत में कुछ नहीं खाया जाता लेकिन विशेष परिस्थिती में फलहार खा सकते हैं. इस दिन विशेष रूप से भगवान शिव के सामने बैठकर ध्यान करना चाहिए. साथ ही उन्हें बेल पत्र और बेर चढ़ाकर शिव चालीसा करनी चाहिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi