S M L

पौष पूर्णिमा: कुंभ का दूसरा महत्वपूर्ण स्नान आज, जानिए क्यों है खास

कुंभ का दूसरा शाही स्नान 4 फरवरी को है. लेकिन सोमवार को पौष पुर्णिमा पड़ने की वजह से 21 जनवरी को होने वाला स्नान महत्वपूर्ण माना जा रहा है

Updated On: Jan 21, 2019 10:05 AM IST

FP Staff

0
पौष पूर्णिमा: कुंभ का दूसरा महत्वपूर्ण स्नान आज, जानिए क्यों है खास

आज यानी 21 जनवरी को पौष पूर्णिमा है. इसलिए आज कुंभ मेले का दूसरा प्रमुख स्नान है. दरअसल माना जाता है पौष पूर्णिमा के दिन संगम में किया गया स्नान काफी महत्वपूर्ण होता है. ऐसे में इस खास मौके पर लाखों की तादाद में कुंभ मेले में पहुंचे श्रद्धालु संगम में डुबकी लगा रहे हैं.  बताया जा रहा है कि इस मौके पर कुंभ में करीब 50 से 55 लाख श्रद्धालु डुबकी लगा रहे हैं.

वैसे कुंभ का दूसरा शाही स्नान 4 फरवरी को है. लेकिन सोमवार को पौष पूर्णिमा पड़ने की वजह से 21 जनवरी को होने वाला स्नान महत्वपूर्ण माना जा रहा है.

पौष पूर्णिमा क्यों है खास?

पौष मास की शुक्ल पक्ष की 15वीं तिथि को पौष पूर्णिमा कहा जाता है. मान्यता है इस दिन कुंभ में स्नान करने से मोक्ष प्राप्त होता है. इसके साथ ही इस दिन जप, जप और दान का भी खास महत्व है.

शाही स्नान की तरीख

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में कुंभ मेले का आगाज 15 जनवरी से हुआ. इसी दिन पहला शाही स्नान भी हुआ था. 4 फरवरी 2019 को कुंभ में दूसरा शाही स्नान होगा. यह दिन इसलिए भी खास है क्योंकि इसी दिन मौनी अमावस्या भी है. मौनी अमावस्या पर स्नान करने का विशेष महत्व होता है. बताया जाता है कि प्रयागराज में लगने वाले कुंभ मेले में सबसे ज्याद भीड़ इसी दिन होती है. प्रयागराज कुंभ मेले का तीसरा शाही स्नान 10 फरवरी 2019 को होगा. इस दिन बसंत पंचमी भी है. बसंत पंचमी के त्योहार का हिंदू धर्म में विशेष महत्व है. आम जन इस दिन पीले रंग के कपड़े पहनते हैं.

कुंभ मेले का चौथा और आखिरी शाही स्नान 4 मार्च 2019 को होगा. खास बात यह है कि इस दिन महाशिवरात्रि भी है, जो इस दिन के स्नान के महत्व को और भी खास बना देती है. गौरतलब है कि इसी दिन प्रयागराज कुंभ मेले का समापन भी हो जाएगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi