S M L

करवा चौथ के दिन ये महिलाएं अपने हाथों में मेहंदी से क्यों लिखवा रही हैं 'पंजाब सरकार मुर्दाबाद'

नौकरी और वेतन में बढ़ोत्तरी के लिए करवा चौथ कर रही हैं यहां की महिलाएं

Updated On: Oct 27, 2018 05:59 PM IST

FP Staff

0
करवा चौथ के दिन ये महिलाएं अपने हाथों में मेहंदी से क्यों लिखवा रही हैं 'पंजाब सरकार मुर्दाबाद'
Loading...

करवा चौथ के मौके पर देशभर में जहां महिलाएं हाथों में मेहंदी से अपने पति का नाम लिखवा रही हैं. वहीं दूसरी तरफ पंजाब के पटियाला में महिलाओं के एक ग्रुप ने इस मौके पर अपने हाथों में मेहंदी से 'पंजाब सरकार मुर्दाबाद' लिखवाया है.

पंजाब सरकार से नाराज चल रही इन कॉन्ट्रैक्ट बेस्ड शिक्षकों की मांग है कि प्रोबेशन पीरियड में भी शिक्षकों को उतना ही वेतन मिले जितना की उनलोगों को मिलता है, जिनकी जॉब कन्फर्म हो चुकी है. शिक्षकों का कहना है कि जब हम उतना ही काम कर रहे हैं, जितना की बाकी के लोग, तो हमें 42,300 की जगह 15,000 रुपए क्यों मिले?

वर्तमान में वो शिक्षक जो प्रोबेशन पीरियड में हैं, उन्हें 15,000 रुपए वेतन मिलती है. वहीं वो शिक्षक जिनकी नौकरी परमानेंट है, उन्हें प्रति महीने 42,300 रुपए मिलते हैं.

सरकार के इस रवैये का विरोध कर रहीं सर्व शिक्षा अभियान की शिक्षिकाओं में से एक अनु का कहना है कि करवा चौथ तो वैसे अपने पति की लंबी उम्र के लिए रखा जाता है, लेकिन हम आज ये अपनी जॉब और अपने वेतन के लिए कर रहे हैं. सरकार के खिलाफ विरोध जताने का यह हमारा तरीका है.

वहीं बरनाला की शिक्षिका नवजोत कौर ने कहा, भला 15,000 रुपए में हम अपना घर कैसे चलाएंगे? सरकार को अपने फैसले को वापस लेना होगा. यह अन्याय है.

बीते 23 अक्टूबर को प्रदर्शनकारियों ने सीएम के मुख्य प्रधान सचिव सुरेश कुमार और अधिकारी-ऑन-स्पेशल-ड्यूटी संदीप संधू से मुलाकात की थी.

इसके बाद पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने इस मसले पर 5 नवंबर को बात करने का वादा किया. बीते 3 अक्टूबर को पंजाब कैबिनेट ने सर्व शिक्षा अभियान और राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान (आरएमएसए) के साथ-साथ आदर्श और मॉडल स्कूलों में भर्ती 8,886 शिक्षकों की सेवाओं को परमानेंट करने का आदेश दिया था.

हालांकि, जिनकी सेवाओं को स्कूल शिक्षा विभाग में नियमित किया जाएगा उन्हें तीन साल के लिए 15,000 रुपये का भुगतान करने का ही नियम है.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi