S M L

27 जुलाई को दिखेगा सबसे लंबा चंद्र ग्रहण, जानिए क्या होगा इसका प्रभाव?

चंद्रग्रहण के दौरान चांद लाल दिखता है जिसे ब्लड मून मतलब रक्तिम चांद कहा जाता है

Updated On: Jul 04, 2018 09:56 PM IST

FP Staff

0
27 जुलाई को दिखेगा सबसे लंबा चंद्र ग्रहण, जानिए क्या होगा इसका प्रभाव?

27 जुलाई को इस सदी का सबसे लंबे समय का चंद्र ग्रहण दिखाई देगा. अधिकारियों ने बताया कि इस दौरान चंद्रमा लगभग चार घंटो के लिए धरती की छाया में आ जाएगा. इस दौरान 'ब्लड मून' भी दिखाई देगा.

इस चंद्र ग्रहण को कई देशों में स्पष्ट तौर पर देखा जा सकेगा. दुबई के एस्ट्रोनॉमी विभाग के अनुसार यह ग्रहण सदी का सबसे लंबा ग्रहण होगा जो करीब एक घंटे 43 मिनट का होगा. एस्ट्रोनॉमी विभाग के अनुसार इस पूर्ण चंद्र ग्रहण का नजारा भारत समेत दुबई, अफ्रीका, मिडिल ईस्‍ट और दक्षिण एशिया में खुली आंखों से देखा जा सकेगा.

27 जुलाई की रात 11 बजकर 54 मिनट से शुरू होकर चंद्र ग्रहण 28 जुलाई की सुबह के 3 बजकर 49 मिनट तक रहेगा. यह ग्रहण करीब 3 घंटे और 55 मिनट तक रहेगा. इससे पहले इस साल का पहला चंद्र ग्रहण जो 31 जनवरी को लगा था उसकी अवधि 3 घंटा और 24 मिनट की थी.

क्‍या होता है ब्‍लड मून

चंद्रग्रहण के दौरान चांद लाल दिखता है जिसे ब्लड मून मतलब रक्तिम चांद कहा जाता है. दरअसल, पूर्ण चंद्रग्रहण के दौरान चांद जब धरती की छाया में रहता है तो इसकी रोशनी लाल हो जाती है. जिसे रक्तिम चंद्र या लाल चांद कहते हैं. ऐसा तब होता है जब चांद पूरी तरह से धरती की परछाईं में ढक जाता है. ऐसे में भी सूरज की 'लाल' किरणें 'स्कैटर' होकर चांद तक पहुंचती है.

ग्रहण का इन राशियों पर पड़ेगा असर

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार इस चंद्रग्रहण का कुछ राशियों पर विशेष असर पड़ेगा. मेष, सिंह, वृश्चिक और मीन राशि पर इस ग्रहण का शुभ असर होगा. जबकि मकर, मिथुन, कन्या और धनु राशि पर अशुभ असर देखने को मिल सकता है. वहीं कुंभ, तुला, कर्क और वृष राशि पर इस ग्रहण का मिला जुला असर पड़ने वाला है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi