S M L

Happy Guru purnima 2018 : Facebook, Whatsapp पर ये मैसेज कर अपने गुरु, परिजन, दोस्त और रिश्तेदारों को दें बधाई

आज सुबह से ही वाट्सएप से लेकर फेसबुक तक लोग अपने परिजनों, मित्रों,गुरुओं और रिश्तेदारों को गुरु पूर्णिमा की बधाई दे रहे हैं. आप भी गुरु पूर्णिमा के उपलक्ष्य में अपने गुरु , दोस्तों और रिस्तेदार, जिन किसी को भी आप अपना गुरु मानते हों, ये मेसेज फॉर्वर्ड कर सकते हैं

FP Staff Updated On: Jul 27, 2018 10:58 AM IST

0
Happy Guru purnima 2018 : Facebook, Whatsapp पर ये मैसेज कर अपने गुरु, परिजन, दोस्त और रिश्तेदारों को दें बधाई

गुरु पूर्णिमा आषाढ़ शुक्ल की पूर्णिमा को कहा जाता है. इस दिन ज्ञान देने वाले गुरु की पूजा की जाती है. हिंदू धर्म में इस दिन का बहुत महत्व है. इस महीने गुरु पूर्णिमा 27 जुलाई 2018 यानी शुक्रवार को पड़ रही है.

इस दिन ही वर्ष का सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण भी पड़ रहा है. जो रात्रि 11:54 से प्रारंभ होगा और रात्रि 3:49 तक रहेगा. जिसका सूतक 9 घंटे पूर्व दोपहर 2:54 से प्रारंभ हो जाएगा.

जो छात्र विद्या अध्ययन कर रहे वो प्रातः 7 बजे से 8:30 बजे तक पूजा कर सकते हैं और जो नौकरी कर रहे वो 9:15 से 10:30 बजे तक करें. वहीं व्यापार कर रहे लोग 10 से 11:15 बजे तक पूजा कर सकते हैं. संपूर्ण रूप से 9:30 से 11 तक सभी लोग पूजन कर सकते हैं.

ऐसे में आज सुबह से ही वाट्सएप से लेकर फेसबुक तक लोग अपने परिजनों, मित्रों,गुरुओं और रिश्तेदारों को गुरु पूर्णिमा की बधाई दे रहे हैं. आप भी गुरु पूर्णिमा के उपलक्ष्य में अपने गुरु , दोस्तों और रिस्तेदार, जिन किसी को भी आप अपना गुरु मानते हों, ये मेसेज फॉर्वर्ड कर सकते हैं.

साभार- फेसबुक

साभार- फेसबुक

फोटो साभार-फेसबुक

फोटो साभार-फेसबुक

फोटो साभार- लोकमत

फोटो साभार- लोकमत

साभार-फेसबुक

साभार-फेसबुक

गुरु तत्व की प्रशंसा तो सभी शास्त्रों ने की है. ईश्वर के अस्तित्व में मतभेद हो सकता है, किंतु गुरु के लिए कोई मतभेद आज तक उत्पन्न नहीं हो सका है. गुरु की महत्ता को सभी धर्मों और संप्रदायों ने माना है. प्रत्येक गुरु ने दूसरे गुरुओं को आदर-प्रशंसा और पूजा सहित पूर्ण सम्मान दिया है. भारत के बहुत से संप्रदाय तो केवल गुरुवाणी के आधार पर ही कायम हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi