S M L

सावन के आखिरी सोमवार में इस वजह से देवघर में उमड़ी भीड़

सावन के शुक्ल पक्ष की दशमी और सोमवार होने के कारण इसे अमृत योग माना जा रहा है

Updated On: Aug 20, 2018 05:10 PM IST

FP Staff

0
सावन के आखिरी सोमवार में इस वजह से देवघर में उमड़ी भीड़

श्रावण मेला के अंतिम सोमवार को देवघर के बाबा मंदिर में श्रद्धालुओं की जबरदस्त भीड़ उमड़ी है. सावन के आखिरी सोमवार के मौके पर शिवलिंग पर जल चढ़ाने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ जुटने लगी थी.

सावन के शुक्ल पक्ष की दशमी और सोमवार होने के कारण इसे अमृत योग माना जा रहा है. इस सुखद संयोग के कारण यहां श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जुटी है. शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में देवघर भी शामिल है. मान्यता है कि इस मौके पर पवित्र 12 ज्योतिर्लिंग को जलार्पण से अमृत जैसे फल की प्राप्ति होती है.

यही कारण है कि सोमवार को जलाभिषेक के लिए देवघर में श्रद्धालुओं की अप्रत्याशित भीड़ उमड़ी है. जानकारों के अनुसार श्रावण मास के प्रत्येक सोमवार को समुद्र मंथन से अद्भुत रत्न की प्राप्ति हुई थी. श्रावण की चौथी सोमवारी को समुद्र मंथन से देवताओं को लक्ष्मी की प्राप्ति हुई थी. जानकारों के अनुसार लक्ष्मी चंचला होती हैं, लेकिन भगवान विष्णु के साथ लक्ष्मी का स्थिर स्वरूप है. ऐसी मान्यता है कि आज यानी सावन के चौथे सोमवार को पवित्र 12 ज्योतिर्लिंग के जलार्पण से याचक को स्थिर लक्ष्मी के सुख, वैभव और ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है.

सुरक्षा  के पुख्ता इंतजाम

अप्रत्याशित भीड़ को व्यवस्थित तरीके से जलार्पण कराने के लिए प्रशासन ने भी पूरी व्यवस्था की थी. इसके लिए प्रशासनिक स्तर पर रुट लाइन सहित मंदिर परिसर में व्यवस्था बनाए रखने के लिए अतिरिक्त पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों की तैनाती की गई थी.

(ऋतुराज सिन्हा की न्यूज 18 के लिए रिपोर्ट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi