live
S M L

मराठा क्रांति मोर्चा: आरक्षण की मांग लेकर सड़क पर उतरे मराठा

ऐसी पहली रैली पिछले साल 9 अगस्त को औरंगाबाद में निकाली गई थी

Updated On: Aug 09, 2017 12:55 PM IST

FP Staff

0
मराठा क्रांति मोर्चा: आरक्षण की मांग लेकर सड़क पर उतरे मराठा

मुंबई में मराठा क्रांति मोर्चा शुरू हो गया है. शिक्षा और नौकरी में आरक्षण के साथ अपनी कई मांगों के समर्थन में महाराष्ट्र का मराठा समुदाय आज मुंबई में सड़कों पर उतरा हुआ है. इसके कारण बुधवार सुबह से ही शहर के कई हिस्सों में जाम लग गया है. मोर्चे को लेकर मुंबई ट्रैफिक पुलिस ने पहले ही ऐहतियात बरतने की बात कह चुकी है.

#MarathaKrantiMorcha में लाखों लोग शामिल हुए हैं. रैली बायकला में जीजामाता उद्यान से सुबह 11 बजे शुरू हुई है, जो शाम 5 बजे मुंबई के आजाद मैदान में खत्म होगी.

मराठा समुदाय आरक्षण समेत अपनी विभिन्न मांगों के लिए ‘सबसे बड़े’ मूक मराठा मार्च का आयोजन किया है. यह रैली समुदाय द्वारा निकाली जाने वाली मराठा क्रांति मूक मोर्चा के एक साल पूरा होने पर प्रस्तावित है. ऐसी पहली रैली पिछले साल 9 अगस्त को औरंगाबाद में निकाली गई थी, जिसके बाद प्रदेश के विभिन्न शहरों में इनका आयोजन किया गया.

क्यों निकाला जा रहा है मोर्चा?

राज्य में मराठाओं को नौकरी में आरक्षण मिलने और अन्य मांगों को लेकर राज्य भर में मराठा शांति मोर्चा का आयोजन पिछले कुछ महीनों में जा रहा है.

अहमदनगर, पुणे औरंगाबाद, मराठवाड़ा और विदर्भ में ये मोर्चा काफी दिनों से चल रहा है. मराठा क्रांति मूक मोर्चा के आयोजकों का कहना है कि हम इसे 57 जगहों पर कर रहे हैं. पहले मराठा क्रांति मूक मोर्चा का आयोजन पिछले साल 9 अगस्त को हुआ था. लाखों की संख्या को देखते हुए मुंबई पुलिस ने विशेष सुरक्षा बल तैनात किया है.

दक्षिण मुंबई के 500 स्कूल बंद

मराठा मोर्चे की वजह से महानगर में ट्रैफिक जाम के चलते राज्य के शिक्षा विभाग ने दक्षिण मुंबई के स्कूलों को बंद रखने का फैसला लिया. राज्य के शिक्षामंत्री विनोद तावडे ने विधानभा में बताया कि स्कूली बच्चे ट्रैफिक जाम में न फंसे इस लिए एक दिन के लिए दक्षिण मुंबई के सायन, माहिम, दादर, वरली व बायकला के स्कूलों को बंद रखने का फैसला लिया गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi