live
S M L

नेशनल फूड छोड़िए, देश की पॉलिटिक्स तो खिचड़ी ही है

देश-दुनिया की हर हलचल पर आलोक पुराणिक की टेढ़ी नजर.

Updated On: Nov 04, 2017 02:34 PM IST

Alok Puranik Alok Puranik
लेखक आर्थिक पत्रकार हैं और दिल्ली विश्वविद्यालय में कामर्स के एसोसिएट प्रोफेसर हैं

0
नेशनल फूड छोड़िए, देश की पॉलिटिक्स तो खिचड़ी ही है

#MukulRoy

खिचड़ी पालिटिक्स

ममताजी उद्धव ठाकरे से मिल रही हैं, उद्धव ठाकरे राहुल गांधी से मिलने के चक्कर में हैं, मुकुल रॉय बीजेपी से मिल लिए, खिचड़ी इस मुल्क का खाद्य ही नहीं, मुख्य राजनीतिक विचारधारा भी है.

#srkbirthday

बार-बार ये दिन

शाहरुख को हैप्पी बर्थडे बोलने गए 13 फैन्स के मोबाइल चोरी. चोरों ने बहुत जोर से गाया- बार बार ये दिन आए, बार-बार ये दिल गाए.

#whatsappdown

मेरा कसूर नहीं

777766567698 स्पष्टीकरण ऐसे गए- बेबी कूल डाउन, तुम्हारी नई प्रोफाइल पिक को सुपर कहा था, वाट्सऐप डाउन था, तुम्हें देर से मिला.

#whatsappdown

ज्ञान वितरण ठप्प

एक घंटे व्हाट्सएप बंद रहा, भारत में ज्ञान वितरण में 1000000000000000000000000000000000000000000000000000% की कमी आई.

#ShivSena

गुजरातवाले

उद्धव: पर-प्रांतीय बहुत परेशान करते हैं ममता: हमें भी परेशान करते हैं

पर-प्रांतीय से आशय उत्तर-भारतीयों से नहीं गुजरातवालों से है.

#MasoodAzhar

पाक की राष्ट्रीय संपत्ति

चीन पाक की हर राष्ट्रीय संपत्ति को बचाने के लिए प्रतिबद्ध है, चीन ने फिर पाक आतंकी मसूद अजहर को बचा लिया.

#khichdi

खाइये बस

अकबरकालीन बीरबल की खिचड़ी सेक्यूलर मानें या मुगलई या फिर मूलतः हिन्दू डिश, बीरबल की वजह से. अबे खा बस. नोट और डिश का धर्म न होता.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi