S M L

जाकिर नाइक का 'मलेशिया कनेक्शन' उसे बचा रहा है?

2016 में भारतीय मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया था कि जाकिर नाइक के पास है पीआर स्टेटस.

FP Staff Updated On: Apr 19, 2017 09:24 AM IST

0
जाकिर नाइक का 'मलेशिया कनेक्शन' उसे बचा रहा है?

पिछले काफी समय से भारत से गायब विवादित इस्लामिक प्रचारक जाकिर नाइक के पास मलेशिया का परमानेंट रेजीडेंट (PR) स्टेटस है और ये उन्हें करीब पांच साल पहले मिला था.

इस बात की पुष्टि करते हुए मलेशिया के उप प्रधानमंत्री अहमद जाहिद हमीदी ने कहा, मलेशिया इकलौता ऐसा देश नहीं है, जहां जाकिर नाइक रहते हों. उन्होंने बताया कि जाकिर नाइक के पास मलेशियन परमानेंट रेजीडेंट है लेकिन वह यहां के नागरिक नहीं है और वो दूसरे देशों में भी रहते हैं.

ये भी पढ़ें: एनआईए ने जाकिर नाइक को ताजा नोटिस जारी किया

गौरतलब है कि नवंबर, 2016 में भारतीय मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया था कि एक 'पैकेज डील' के तहत जाकिर नाइक को मलेशियाई नागरिकता दी गई थी. वहीं गृह मंत्रालय़ ने मीडिया रिपोर्ट्स को खारिज कर दिया था. आपको बता दें कि जाकिर नाइक को मलेशिया में 2013 में Tokoh Maal Hijrah अवॉर्ड से सम्मानित भी किया जा चुका है.

डॉक्टर अहमद जाहिद जो कि गृह मंत्री भी हैं, उन्होंने कहा कि मलेशियाई अधिकारी किसी भी आधार पर जाकिर के खिलाफ जांच नहीं कर सकते हैं. लेकिन अगर दोनों देशों के बीच में आपसी कानूनी सहायता समझौता हो जाता है, तो वह भारतीय अधिकारियों की मदद कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें: जाकिर नाइक के खिलाफ ईडी का कसा शिकंजा, 18.37 करोड़ की संपत्ति जब्त

गौरतलब है कि 1 जुलाई, 2016 को बांग्लादेश की राजधानी ढाका के एक पॉश रेस्तरां में हुए आतंकी हमले की जांच के दौरान नाइक पहली बार जांच के घेरे में आए थे. ढाका हमले में शामिल एक आतंकवादी के कथित तौर पर नाइक के भाषणों से प्रेरित होकर आतंकवादी बनने की बात का खुलासा हुआ था.

एनआईए ने इसके बाद गैर-कानूनी गतिविधियां अधिनियम के तहत धर्म और नस्ल के आधार पर नफरत फैलाने के लिए नाइक के खिलाफ मामला दर्ज किया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi