S M L

टेक्नोलॉजी के बादशाह एलोन मस्क ने की इसरो वैज्ञानिकों की तारीफ

एलोन मस्क स्पेस एक्स के संस्थापक हैं जो कि एक स्पेस ट्रांसपोर्ट कंपनी है.

Puneet Saini Puneet Saini | Published On: Feb 18, 2017 03:08 PM IST | Updated On: Feb 18, 2017 03:24 PM IST

टेक्नोलॉजी के बादशाह एलोन मस्क ने की इसरो वैज्ञानिकों की तारीफ

आज के जमाने के स्टीव जॉब्स कहे जाने वाले एलोन मस्क जो कि दुनिया कई अब तक अनसुने कामों को कर रहे हैं उन्होंने इसरो की तारीफ की है. ऐसा करने वाले वो अकेले नहीं हैं.

फ़ोर्ब्स के मुताबिक एलोन दुनिया के 21वें धनी शख्सियत हैं. इसरो और स्पेस एक्स सैटेलाइट लॉन्चिंग में एक-दूसरे के प्रतियोगी हैं. ऐसे में एलोन की तारीफ काफी मायने रखती है. पिछले साल लॉस एंजिलिस में जाम में फंसने के बाद एलोन ने सुरंग बनानी शुरू कर दी थी. उनका कहना था कि सुरंग बनने के बाद शहर में कभी जाम नहीं लगेगा.

बुधवार को इसरो के वैज्ञानिकों ने श्रीहरिकोटा प्रक्षेपण केंद्र से एक साथ 104 सेटेलाइट लांच की थी. भारत दुनिया का पहला ऐसा देश है जिसने एक साथ इतनी सारी मिसाइल लांच की है. इससे पहले रूस के पास सबसे ज्यादा 37 उपग्रह छोड़ने का रिकॉर्ड है.

स्पेस एक्स के फाउंडर एलोन मस्क ने भी भारत के वैज्ञानिकों की तारीफ की है. एलोन ने ट्विटर पर एक यूजर को जवाब देते हुए लिखा ‘इसरो के काम ने भारत को गौरवांवित किया है.’

इतना ही नहीं एलोन के दूसरे ट्वीट ने दुनिया में भारत के बढ़ते कद पर मुहर भी लगा दी. एलोन ने ट्वीट किया ‘ये भारत के इसरो की बहुत कमाल की अचीवमेंट है, जो कि बहुत प्रभावशाली है.’

अमेरिकी अखबार वॉशिंगटन पोस्ट ने भी भारत की तारीफ की है. वॉशिंगटन पोस्ट ने अपने पोस्ट में लिखा ‘यह लॉन्चिंग इसरो के लिए बड़ी कामयाबी है. कम खर्च में कामयाब मिशन को लेकर इसरो की साख इंटरनेशनल लेवल पर तेजी से बढ़ रही है.’

ब्रिटेन के अखबार द गार्डियन ने लिखा ‘नया रिकॉर्ड ब्रेक करने वाली यह लॉन्चिंग तेजी से बढ़ते प्राइवेट स्पेस मार्केट बाजार में एक संजीदा खिलाड़ी के रूप में भारत को मजबूती देगी. भारत 1980 में खुद का रॉकेट लॉन्च करके ऐसा करने वाला छठा देश बना था. उसने अपने स्पेस रिसर्च को काफी पहले ही अपनी प्राथमिकता बना लिया था. भारत सरकार ने इस साल अपने स्पेस प्रोग्राम के लिए बजट बढ़ा दिया है. साथ ही, वीनस तक मिशन भेजने का ऐलान कर दिया है.'

द न्यूयॉर्क टाइम्स ने भी इसरो के वैज्ञानिकों की तारीफ में लिखा ‘एक दिन में सैटेलाइट्स की लॉन्चिग के पिछले रिकॉर्ड से तीन गुना ज्यादा, 104 सैटेलाइट्स की लॉन्चिंग, फिर उन्हें ऑर्बिट में ठीक ढंग से भेजा गया है. इसने भारत को स्पेस बेस्ड सर्विलांस और कम्युनिकेशन के तेजी से बढ़ते ग्लोबल मार्केट में अहम खिलाड़ी के रूप में पेश किया है’

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi