विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

#UNDay 2017: यूनाइटेड नेशन्स को हुए 72 साल, जानिए, 20 जरूरी बातें

आज यूएन के फाउंडेशन डे पर आइए जानें इस संस्था से जुड़ी जरूरी और दिलचस्प बातें. देखिए, आप कितना जानते हैं यूएन को-

FP Staff Updated On: Oct 24, 2017 01:09 PM IST

0
#UNDay 2017: यूनाइटेड नेशन्स को हुए 72 साल, जानिए, 20 जरूरी बातें

आज यानी 24 अक्टूबर को यूनाइटेड नेशन्स अपने 72 साल पूरे कर रहा है. 1945 में अस्तित्व में आने के बाद से विश्व का सबसे बड़ा संगठन दुनिया में शांति कायम करने और खुशहाली लाने की कोशिशों में लगा हुआ है. आज यूएन के फाउंडेशन डे पर आइए जानें इस संस्था से जुड़ी जरूरी और दिलचस्प बातें. देखिए, आप कितना जानते हैं यूएन को-

1. 1945 में दूसरे विश्व युद्ध की भयावहता को देखते हुए यूनाइटेड नेशन्स चार्टर जारी किया गया. इसका उद्देश्य विश्व में शांति बनाए रखना, युद्ध जैसी आशंकाओं पर लगाम लगाना, निरस्त्रीकरण को बढ़ावा देना साथ ही न्याय और समान अधिकार का प्रसार करना था.

2. यूएन ने लीग ऑफ नेशंस की जगह ली थी. लीग सामूहिक सुरक्षा से युद्ध को रोकना, निरस्त्रीकरण, अंतर्राष्ट्रीय विवादों का बातचीत और मध्यस्थता से  समाधान करने जैसे अपने उद्देश्यों में बुरी तरह असफल रहा था, इसलिए विश्व को यूएन चार्टर की जरूरत पड़ी.

3. यूएन चार्टर में इसके उद्देश्य बताए गए हैं- अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा को बनाए रखना, राष्ट्रों के बीच में मैत्रीपूर्ण संबंध बनाए रखना, अंतरराष्ट्रीय समस्याओं को हल करने के लिए मदद जुटाना, इन उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए राष्ट्रों के केंद्र में होना.

4. यूएन की स्थापना 24 अक्टूबर, 1945 में न्यूयॉर्क के लेक सक्सेस में की गई थी. अमेरिकी राष्ट्रपति फ्रैंकलिन डी. रूजवेल्ट ने यूनाइटेड नेशन्स को इसका नाम दिया था.

5. यूएन चार्टर में कुल 8,778 शब्द हैं.

6. जब इस संगठन की स्थापना हुई थी, तब 45 देश इसके सदस्य थे. अब इनकी संख्या 193 है. स्थापना करने वाले देशों में यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, भारत, चीन, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के अलावा और भी कई देश शामिल थे.

7. 1948 में जनरल असेंबली ने तय किया कि हर साल 24 अक्टूबर को यूएन दिवस के तौर पर मनाया जाएगा.

8. 1920 में जनरल असेंबली ने सुझाव दिया कि 24 अक्टूबर को सदस्य देशों की ओर से सार्वजनिक छुट्टी का दर्जा दिया जाए.

9. दुनिया के तीन देश यूएन में शामिल नहीं है. कोसोवो, ताइवान और वेटिकन सिटी. कोसोवो को यूएन सदस्यों की ओर से तवज्जो नहीं मिली है. ताइवान 1971 से चीन के कब्जे में है और वेटिकन सिटी ने अपने धार्मिक कारणों का हवाला देकर इसका सदस्य बनने से इनकार किया है. सबसे हाल में (2011) साउथ सूडान इस संगठन का सदस्य बना है.

10. यूएन की 6 आधिकारिक भाषाएं हैं. ये भाषाएं हैं- अंग्रेजी, चीनी, स्पेनिश, अरेबिक, फ्रेंच और रूसी. जी नहीं, हिंदी इसमें शामिल नहीं है.

11. यूएन के 6 भाग हैं- जनरल असेंबली. सिक्योरिटी काउंसिल, इकोनॉमिक एंड सोशल काउंसिल, ट्रस्टीशिप काउंसिल, इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस और सेक्रेटेरियट.

12. संयुक्त राष्ट्र संघ का महासचिव का पद संगठन का सबसे बड़ा पद है. अब तक यूएन के 10 महासचिव रह चुके हैं. वर्तमान महासचिव पुर्तगाल के एंटोनियो गुटेरेस हैं. वो पुर्तगाल के प्रधानमंत्री रह चुके हैं.

13. घाना के कोफी अन्नान और दक्षिण एशिया के बान-की-मून अबतक के सबसे प्रभावशाली यूएन महासचिव रहे हैं.

14. यूएन के महासचिव को इन पांच संयुक्त राष्ट्र क्षेत्रीय समूहों से चुना जाता है- अफ्रीकन, एशियन, लैटिन अमेरिकन/कैरेबियन, पूर्वी यूरोप और पश्चिमी यूरोप.

15. एक अध्यक्ष, 21 उपाध्यक्ष और जनरल असेंबली की 6 मुख्य समितियों के 6 चैयरमैनों को हर रेगुलर सेशन के पहले चुना जाता है.

16. जनरल असेंबली का सेशन सितंबर के तीसरे मंगलवार से शुरू होकर दिसबंर को तीसरे हफ्ते तक चलता है.

17. जनरल असेंबली की विशेष बैठक भी हो सकती है, इसके लिए या तो सिक्योरिटी काउंसिल निवेदन करता है या संघ के सदस्यों की ओर से आग्रह किया जाता है.

18. यूएन विश्व के 9 करोड़ लोगों को खाना उपलब्ध कराता है. 6 करोड़ से अधिक विस्थापित लोगों की मदद करता है. क्लाइमेट चेंज की दिशा में काम करता है, शांति मिशन चलाता है. गरीबी से लड़ता है. मानव अधिकारों की रक्षा करता है और राष्ट्रों के बीच के संघर्षों को हल करने की कोशिश करते हुए एक शांतिपूर्ण विश्व बनाने की दिशा में काम करता है.

19. यूएन अपने वैक्सीनेशन यानी टीकाकरण के अभियान भी चलाता है. ये टीकाकरण अभियान उसके कुछ सबसे बड़े अभियानों में से एक है. यूएन विश्व के लगभग 58% बच्चों का टीकाकरण करता है.

20. यूनाइटेड नेशन्स को 2001 में शांति का नोबल मिल चुका है. इसके अलावा उसे और भी कई अवॉर्ड से सम्मानित किया जा चुका है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi