S M L

गेबार्ड ने अमेरिकी न्याय विभाग से कहा, 'घृणा अपराधों की जांच हो'

गेबार्ड अमेरिकी प्रतिनिधि सभा के लिए निर्वाचित होने वाली पहली भारतीय हिंदू हैं.

Bhasha | Published On: Mar 24, 2017 02:48 PM IST | Updated On: Mar 24, 2017 02:48 PM IST

0
गेबार्ड ने अमेरिकी न्याय विभाग से कहा, 'घृणा अपराधों की जांच हो'

अमेरिकी कांग्रेस में पहली हिंदू सांसद तुलसी गेबार्ड ने भारतीय मूल के अमेरिकियों के खिलाफ बढ़ते घृणा अपराधों पर चिंता व्यक्त की है.

उन्होंने न्याय विभाग से बहुलवादी समाज को बढ़ावा देने के लिए कट्टरता से प्रेरित सभी हिंसक कृत्यों की जांच करने के लिए कहा है.

गेबार्ड ने भाषा से कहा,  'मैं इसे लेकर बहुत चिंतित हूं. कट्टरता से प्रेरित इस तरह के हिंसक घृणा अपराध हमेशा हमारे लोगों और हमारे समुदाय के लिए खतरनाक होते हैं.'

हवाई से तीन बार सांसद के रूप में निर्वाचित गैबार्ड को हाल ही में कांग्रेशनल कॉकस ऑन इंडिया एंड इंडियन अमेरिकन्स की डेमोक्रेटिक सह-अध्यक्ष के रूप में निर्वाचित किया गया है.

गेबार्ड ने कहा, 'मैं न्याय विभाग से लोगों को सूचित और शिक्षित करना जारी रखने के लिए, धर्म, नस्लभेद, जातीयता और सामाजिक स्थिति से उपर उठकर लोगों का सम्मान करने वाले बहुलवादी समाज को बढ़ावा देने के लिए इस तरह के हिंसक कृत्यों की जांच करने का आग्रह करती हूं.'

गेबार्ड देश में बढ़ते घृणा अपराधों के मुद्दे पर सवालों का जवाब दे रही थीं.

उन्होंने कहा, 'यह ऐसा मुद्दा है जो सिर्फ भारतीय मूल के अमेरिकियों या हिंदुओं को ही प्रभावित नहीं करता है बल्कि वास्तव में यह प्रत्येक अमेरिकी के लिए महत्वपूर्ण है.'

गेबार्ड अमेरिकी प्रतिनिधि सभा के लिए निर्वाचित होने वाली पहली भारतीय हिंदू हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi