S M L

कोर्ट ने कहा- महिला चिल्लाई नहीं, इसका मतलब रेप नहीं हुआ

इटली के न्याय मंत्री ने इस फैसले की जांच करने को कहा है

Bhasha | Published On: Mar 24, 2017 09:26 AM IST | Updated On: Mar 24, 2017 09:51 AM IST

कोर्ट ने कहा- महिला चिल्लाई नहीं, इसका मतलब रेप नहीं हुआ

इटली के न्याय मंत्री ने अपने अधिकारियों से उस मामले की कथित रूप से जांच करने को कहा है, जिसमें एक अदालत ने एक महिला के बलात्कार के आरोपी को इसलिए बरी कर दिया क्योंकि महिला मदद के लिए चिल्लाई नहीं थी.

इतालवी संवाद समिति एएनएसए ने कल कहा कि मंत्री आंद्रे ओर्लांदो ने मंत्रालय निरीक्षकों से इस मामले की जांच करने को कहा है.

एएनएसए ने कहा कि तुरिन में एक अदालत ने पिछले महीने फैसला सुनाया था कि कथित रूप से बलात्कार करने वाले अपने सहकर्मी को महिला का ‘‘बहुत हो चुका’’ कहना यह साबित करने के लिए बहुत कमजोर प्रतिक्रिया है कि उसका बलात्कार हुआ था. फैसले में कहा गया था कि वह चिल्लाई नहीं या उसने मदद नहीं मांगी.

विपक्षी फोर्जा इटालिया पार्टी के सांसद अन्नाग्रेजिया कलाब्रिया ने फैसले की निंदा की. महिला समूहों ने भी इस फैसले की आलोचना की है.

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi

लाइव

Match 6: India 83/2Shikhar Dhawan on strike