S M L

पेरिस जलवायु समझौता दुनिया की साझी विरासत :मोदी

मोदी ने कहा कि पेरिस जलवायु करार धरती और हमारे प्राकृतिक संसाधनों को बचाने के हमारे कर्तव्य को झलकाता है

Bhasha | Published On: Jun 03, 2017 09:48 PM IST | Updated On: Jun 03, 2017 09:48 PM IST

0
पेरिस जलवायु समझौता दुनिया की साझी विरासत :मोदी

पेरिस जलवायु समझौते से अमेरिका के अलग होने के एक दिन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि यह समझौता दुनिया की साझी विरासत है और भारत जलवायु संरक्षण के लिए अपेक्षाओं से भी आगे बढ़कर काम करेगा.

फ्रांस के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति एमेनुअल मेक्रों के साथ एलिसी पैलेस में व्यापक विचार-विमर्श के बाद मोदी ने कहा कि पेरिस जलवायु करार धरती और हमारे प्राकृतिक संसाधनों को बचाने के हमारे कर्तव्य को झलकाता है. हमारे लिए यह आस्था का मामला है.

भावी पीढ़ी के लिए जरूरी है यह समझौता 

उन्होंने मेक्रों के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘पेरिस जलवायु समझौता दुनिया की साझा विरासत है. यह भविष्य की पीढ़ियों को भी लाभान्वित करेगा.’

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कार्बन उत्सर्जन कम करने पर हुए पेरिस जलवायु परिवर्तन समझौते से अलग होने की शुक्रवार घोषणा की थी. ट्रंप ने कहा कि यह समझौता भारत और चीन जैसे देशों को अनुचित तरीके से लाभ पहुंचाता है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत लगातार काम करता रहेगा. पेरिस समझौते की अपेक्षाओं से अधिक करता रहेगा.

उन्होंने कहा, ‘हमारे पास प्राकृतिक संसाधन हैं क्योंकि हमारी पहले की पीढ़ियों ने इन संसाधनों को संजोया है. हमें भावी पीढ़ियों के लिए ऐसा ही करना होगा.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi