S M L

पिछले 70 साल में मजबूत हुए हैं भारत-रूस के रिश्ते - मोदी

इकोनॉमिक फोरम में बोल रहे हैं पीएम मोदी

FP Staff | Published On: Jun 02, 2017 05:43 PM IST | Updated On: Jun 02, 2017 07:33 PM IST

0
पिछले 70 साल में मजबूत हुए हैं भारत-रूस के रिश्ते - मोदी

रूस में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में पीएम मोदी ने भारत-रूस संबंधों पर कहा कि पिछले 70 साल से लगातार दोनों देशों के रिश्ते मजबूत हो रहे हैं.

सेंट पीटर्सबर्ग में मोदी ने  इंटरनेशनल इकॉनोमिक फोरम को संबोधित करते हुए कहा कि 'विश्‍व में कई बदलाव आए हैं, लेकिन भारत और रूस के संबंध निरंतर बढ़ते गए है'. उन्‍होंने कहा कि 'दुनिया आज भारत की तरफ देख रही है'.

बोल रहे हैं पीएम मोदी. पीएम मोदी ने कहा आज भारत की अर्थव्यवस्था तेजी से आगे बढ़ रही है. पूरी दुनिया हमारे विकास को देख रही है. हमने बीते सालों में तेजी के साथ वैश्विक फलक पर अपनी मजबूत छवि बनाई है.

पीएम मोदी तकनीक की बात करते हुए कहा कि तकनीक के प्रति हमें इस बात के लिए सचेत रहना होगा कि डिजिटल डिवाइस बहुत बड़ी मुश्किल पैदा हो सकती है. तकनीक का गलत इस्तेमाल सभी के लिए मुश्किलें पैदा कर सकता है. इसीलिए भारत में डिजीटल इंडिया का प्रोग्राम चल रहा है. फाइनेंशियल इन्क्लूजन के लिए हम जन-धन योजना लेकर आए. तकनीक से लोगों के जोड़ने के लिए हम अपने देश के लोगों के लिए आधार लिंक अनिवार्य कर रहे हैं.

1100 दिन नहीं हुए और 1200 पुराने कानून खत्म कर दिए 

पीएम मोदी ने कहा कि अभी हमारी सरकार को आए 1100 दिन भी नहीं हुए लेकिन हमने 1200 पुराने कानूनों को खत्म कर ईज ऑफ डूइंग बिजनेस की तरफ आगे बढ़ने की कोशिश की है. 7000 नए रिफॉर्म्स इसी दिशा में किए गए हैं. वर्ल्ड बैंक ने भी हमारे कदमों की तारीफ की. सभी क्रेडिट रेटिंग एजेंसीज ने भारत की तारीफ की है. उन्होंने कहा है कि भारत आने वाले समय में दुनिया का नेतृत्व करेगा.

हिंदुस्तान दुनिया में अकेला देश है जो पहले ही ट्रायल में मंगल मिशन में कामयाब हुआ. और सबसे कमाल की बात है कि हॉलीवुड की एक फिल्म बनाने में जितना खर्च होता है, हम उससे भी कम पैसे में इसे पूरा कर पाए हैं.

हमारे देश का यूथ विश्व को बहुत कुछ दे सकता है. इसलिए मैं पूरी दुनिया के देशों को आमंत्रण देता हूं कि वो आएं और हमारे देश को आगे बढ़ाने में अपना योगदान दें.

हम मैन्यूफैक्चरिंग के क्षेत्र में आगे बढ़ना चाहते हैं. मेडिकल डिवाइस को बनाने वाली कंपनियों को निमंत्रण देता हूं कि वो आएं और हमारे देश को आगे बढ़ाने में योगदान दें. हम अपने देश में लोगों को सस्ता इलाज देना चाहते हैं. इसके हमारे देश में आइए और काम कीजिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi