विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

पाकिस्तान में दरगाह पर आत्मघाती हमला, 100 की मौत

सहवान में लाल शाहबाज कलंदर के मजार पर हुआ आत्मघाती हमला

FP Staff Updated On: Feb 17, 2017 09:08 AM IST

0
पाकिस्तान में दरगाह पर आत्मघाती हमला, 100 की मौत

पाकिस्तान के सिंध प्रांत के सहवान कस्बे में स्थित लाल शाहबाज कलंदर दरगाह के भीतर गुरुवार रात आईएसआईएस के एक आत्मघाती हमलावर द्वारा किए गए विस्फोट में करीब 100 लोगों की मौत हो गई और कई लोग घायल हो गए.हमले में 250 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं.

पाकिस्तान में एक सप्ताह के भीतर यह पांचवां आतंकी हमला हुआ है. हमलावर ‘सुनहरे गेट’ से दरगाह के भीतर दाखिल हुआ और पहले उसने ग्रेनेड फेंका लेकिन वह नहीं फटा.

पुलिस के अनुसार यह धमाका सूफी रस्म ‘धमाल’ के दौरान हुआ. विस्फोट के समय दरगाह के परिसर के भीतर सैकड़ों की संख्या में जायरीन मौजूद थे.

सहवान के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने कहा, ‘उसने अफरा-तफरी मचाने के लिए पहले ग्रेनेड फेंका और फिर खुद को उड़ा लिया.’ सहवान थाने के एसएचओ रसूल बख्श ने संवाददाताओं को बताया कि करीब 100 लोगों की मौत हो गई जिनमें कई महिलाएं और बच्चे शामिल हैं.

तालुका हॉस्पिटल के मेडिकल सुपरिटेंडेंट मोइनुद्दीन सिद्दकी ने इस हमले की पुष्टि की है.

सहवान के एसीपी ने कहा कि आत्मघाती हमलावर दरगाह में गोल्डन गेट से दाखिल हुआ. हमलावर ने एक ग्रेनेड फेंका और अपने आप को उड़ा लिया. हालांकि ग्रेनेड फटा नहीं.

यह घटना दरगाह के भीतर हुई जब 'धमाल' हो रहा था. धमाल एक सूफी रिचुअल है.

अभी तक की जानकारी के अनुसार 

पाकिस्तान अस्पताल के कर्मचारी इमरजेंसी वार्ड में घायलों के लिए इंतजाम करते हुए

पाकिस्तान अस्पताल के कर्मचारी इमरजेंसी वार्ड में घायलों के लिए इंतजाम करते हुए
  • अभी तक 30 लोगों की मौत हुई है और 100 से अधिक लोग घायल हुए हैं.
  • यह धमाका शाम की सूफी प्रार्थना धमाल के समय हुआ.
  • घायलों को सब-डिस्ट्रिक्ट अस्पताल और लियाकत मेडिकल कॉम्प्लेक्स में ले जाया गया है.
  • यह दरगाह इंडस हाईवे के पास है.

गुरुवार को दरगाह में काफी भीड़ थी. इलाके के सभी अस्पतालों में इमरजेंसी की घोषणा कर दी गई है.

चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ कमर जावेद बाजवा ने सेना को सिविल अथॉरिटीज को मदद करने का निर्देश दिया है.

सेना की टुकडियां मेडिकल स्टाफ के साथ लोगों की मदद के लिए भेजी जा रही हैं. कंबाइंड मिलिट्री हॉस्पिटल, हैदराबाद को गंभीर रूप से घायलों की इलाज के लिए अलर्ट किया गया है.

एदी फाउंडेशन के फैसल एदी ने इस बात की पुष्टि की है कि 60 शवों को हैदराबाद और जमशोरो के अस्पताल में ले जाया गया है.

आईएसआईएस ने अपनी समाचार एजेंसी अमाक के जरिए हमले की जिम्मेदारी ली और कहा कि आत्मघाती हमलावर ने दरगाह में ‘शिया लोगों’ को निशाना बनाया.

पाकिस्तान में साल 2005 से देश की 25 से अधिक दरगाहों पर हमले हुए हैं. हैदराबाद के आयुक्त काजी शाहिद ने कहा कि यह दरगाह दूरस्थ इलाके में स्थित है, ऐसे में हैदराबाद, जमशोरो, मोरो, दादू और नवाबशाह से एंबुलेंस एवं वाहनों तथा चिकित्सा दलों को मौके पर भेजा जा रहा है.

उन्होंने कहा, ‘अस्पतालों में आपात स्थिति घोषित कर दी गई है और बचाव अभियान शुरू कर दिया गया है.’ सेना ने कहा कि सी130 विमान के जरिए घायलों को नवाबशाह लाया जाएगा.

प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने इस हमले की निंदा की पाकिस्तान के लोगों से ‘एकजुट होकर खड़े होने’ की अपील की.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi