विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

अमेरिका-दक्षिण कोरिया का नौसैन्य अभ्यास अगले हफ्ते से

उत्तर कोरिया के हथियार कार्यक्रमों के कारण पिछले कुछ महीनों में तनाव काफी बढ़ गया है

Bhasha Updated On: Oct 13, 2017 05:53 PM IST

0
अमेरिका-दक्षिण कोरिया का नौसैन्य अभ्यास अगले हफ्ते से

अमेरिकी नौसेना ने शुक्रवार को बताया कि अमेरिका और दक्षिण कोरिया अगले हफ्ते से एक बड़े नौसेना अभ्यास की शुरुआत करेंगे. ये अभ्यास उत्तर कोरिया के परमाणु और मिसाइल परीक्षणों के खिलाफ अपनी शक्ति का प्रदर्शन करने के लिए किया जाएगा.

उत्तर कोरिया के हथियार कार्यक्रमों के कारण पिछले कुछ महीनों में तनाव काफी बढ़ गया है. अमेरिका के प्रतिबंधों की अवहेलना करते हुए प्योंगयांग ने कई मिसाइलों का प्रक्षेपण किया और अपने छठे और सबसे शक्तिशाली परमाणु परीक्षण को अंजाम दिया.

दक्षिण कोरिया और जापान के बीच बढ़ा सैन्य अभ्यास 

अमेरिका ने तब से क्षेत्र में अपने दो करीबी देशों-दक्षिण कोरिया और जापान के साथ सैन्य अभ्यास को बढ़ा दिया है.

एक बयान में अमेरिका के सातवें फ्लीट ने कहा कि इस अभ्यास में दक्षिण कोरिया के नौसैन्य जहाजों के साथ यूएसएस रोनाल्ड रेगन लड़ाकू विमान वाहक और दो अमेरिकी विध्वंसक शामिल किए जाएंगे.

बयान में कहा गया कि 16 अक्तूबर से 26 अक्तूबर तक जापान के सागर और येलो सी में होने वाला यह अभ्यास, 'संचार, पारस्परिकता और साझेदारी' को बढ़ावा देंगे.

यह कदम प्योंगयांग को नाराज़ कर सकता है जिसने कुछ समय पहले किसी आगामी संयुक्त सैन्य अभ्यास के खिलाफ चेतावनी दी थी.

सरकारी समाचार एजेंसी केसीएनए की खबर के मुताबिक, 'अगर अमेरिकी साम्राज्यवादी और उनकी कठपुतली जापान, हमें परमाणु युद्ध के लिए भड़काते हैं तो इसका परिणाम केवल उनका खात्मा होगा.' मंगलवार को ट्रंप ने उत्तर कोरिया के परमाणु और मिसाइल परीक्षण का जवाब देने के लिए अपनी राष्ट्रीय सुरक्षा टीम के साथ ‘कई विकल्पों’ पर चर्चा की थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi