विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

नेपाल सरकार ने भारत में अपने राजदूत का इस्तीफा स्वीकार किया

दीप कुमार उपाध्याय ने अपना इस्तीफा छह अक्तूबर को नेपाल के उप प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री कृष्ण बहादुर महारा को सौंपा था

Bhasha Updated On: Oct 24, 2017 06:47 PM IST

0
नेपाल सरकार ने भारत में अपने राजदूत का इस्तीफा स्वीकार किया

नेपाल सरकार ने भारत में अपने राजदूत दीप कुमार उपाध्याय का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है. उन्होंने आगामी संसदीय चुनाव लड़ने के लिए राजदूत का पद छोड़ा है.

उपाध्याय ने अपना इस्तीफा छह अक्तूबर को नेपाल के उप प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री कृष्ण बहादुर महारा को सौंपा था.

नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा की अध्यक्षता में सोमवार को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में उपाध्याय का इस्तीफा स्वीकार कर लिया गया जिससे अब यह पद खाली हो गया है.

राजनीति में उतर रहें दीप कुमार

उपाध्याय ने 26 नवंबर को होने वाले संसदीय चुनाव के लिए सत्तारूढ़ नेपाली कांग्रेस के उम्मीदवार के रूप में पश्चिमी नेपाल के कपिलवस्तु से पर्चा भरा है.

उपाध्याय की नियुक्ति अप्रैल 2015 में नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री सुशील कोइराला के नेतृत्व वाली सरकार के दौरान हुई थी. बाद में सीपीएन-यूएमएल के केपी शर्मा ओली के नेतृत्व वाली सरकार ने मई 2016 में उन्हें राष्ट्रहित के खिलाफ काम करने के आरोप में वापस बुला लिया था.

प्रचंड सरकार ने पिछले साल उनकी पुन: नियुक्ति कर दी थी.

उपाध्याय ने उस समय नेपाल और भारत के बीच तनाव कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी जब नया संविधान लागू किए जाने के बाद नेपाल को दक्षिणी सीमा पर नाकेबंदी का सामना करना पड़ा था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi