S M L

दूसरों की आस्था और मंदिरों पर हमला करना जुर्म: नवाज शरीफ

सोशल मीडिया पर निंदात्मक संदेश डालने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने का आदेश

IANS | Published On: Mar 14, 2017 10:12 PM IST | Updated On: Mar 14, 2017 10:12 PM IST

दूसरों की आस्था और मंदिरों पर हमला करना जुर्म: नवाज शरीफ

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने मंगलवार को कहा कि ईश-निंदा एक अक्षम्य अपराध है. उन्होंने प्रशासन को निर्देश दिया है कि सोशल मीडिया पर इस प्रकार के निंदात्मक संदेश डालने वाले लोगों को ढूंढें और उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए. शरीफ का कहना है कि इस काम में किसी प्रकार की देरी नहीं होनी चाहिए.

पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज ने ट्विट कर बताया, प्रधानमंत्री ने अधिकारियों को सोशल मीडिया से ईशनिंदा जैसे संदेशों को हटाने का निर्देश दिया है. साथ में यह भी सुनिश्चित करने को भी कहा कि इस प्रकार के संदेश भविष्य में सोशल मीडिया पर न डाले जाए.

ईश-निंदा संदेश सोशल मीडिया से हटाने का आदेश

शरीफ ने इस संबंध में सभी अधिकारियों को न्यायिक दिशानिर्देशों के अनुसार आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश भी दिया है.

प्रधानमंत्री शरीफ ने कहा, ‘पैगंबर साहब के प्रति स्नेह और प्रेम हर मुसलमान के लिए सर्वाधिक कीमती और महत्वपूर्ण है.’

पाक पीएम ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे सोशल मीडिया से संबंधित अंतर्राष्ट्रीय संगठनों से संपर्क कर ईश-निंदा करने वाले सभी संदेश हटाए जाए. उन्होंने कहा कि इस संबंध में विदेश मंत्रालय विभाग को अपना दायित्व निभाना चाहिए.

शरीफ ने कहा कि यह मुद्दा अदालत के सामने है. अदालत के दिशानिर्देशों के अनुसार सभी कदम उठाए जाने चाहिए. इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने सोशल मीडिया पर ईश-निंदा करने वाले सभी पेजों को बंद करने के भी निर्देश दिए हैं.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi