S M L

मोदी-ट्रंप साझा बयान: आतंकवाद से साथ मिलकर लड़ेंगे भारत-अमेरिका

मोदी और ट्रंप की बातचीत में आतंकवाद और व्यापार प्रमुख मुद्दा रहा

FP Staff Updated On: Jun 27, 2017 07:00 AM IST

0
मोदी-ट्रंप साझा बयान: आतंकवाद से साथ मिलकर लड़ेंगे भारत-अमेरिका

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच वाइट हाउस में कई अहम मुद्दों पर बातचीत हुई. पीएम मोदी का डोनाल्ड ट्रंप ने बेहद गर्मजोशी से स्वागत किया. हाथ मिलाने से शुरू हुई यह मुलाकात गले मिलकर खत्म हुई. दोनों नेताओं ने मुलाकात के बाद जारी साझा बयान में आतंकवाद को दुनिया से खत्म करने की बात कही.

साझा बयान की मुख्य बातें-

- भारत और अमेरिका में आतंकवाद और चरमपंथ पर बातचीत हुई है. क्षेत्रीय हालात पर भी हम दोनों में चर्चा हुई. अफगानिस्तान में शांति तथा स्थिरता जरूरी है. आतंकवाद से लड़ना दोनों देशों के हित में हैं.

- डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि कट्टर इस्लामिक आतंकवाद को खत्म करेंगे. पीएम मोदी ने साझा बयान में राष्ट्रपति ट्रंप का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आतंकवाद जैसी चुनौती सबसे बड़ी प्राथमिकता है. हम मानव जाति की रक्षा के लिए इसे मिलकर खत्म करेंगे.

- पीएम मोदी ने कहा कि यह बैठक परस्पर विश्वास पर आधारित थी. ये दौरा दोनों देशों के बीच सहयोग को नई ऊंचाइयों पर ले जाएगा. मोदी ने कहा कि 'न्यू इंडिया' और 'मेक अमेरिका ग्रेट अगेन' एक जैसे हैं. मजबूत अमेरिका भारत के हित में है.

- ट्रंप ने कहा कि भारत आजादी के 70 साल पूरे कर रहा है. भारत अमेरिका का सच्चा दोस्त है. ट्रंप ने भारत को महान संस्कृति वाला देश बताते हुए भारतीयों को बधाई दी. उन्होंने भारत को सबसे तेज बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था कहा.

- ट्रंप ने खुद को और पीएम मोदी को सोशल मीडिया का बड़ा नेता बताया. उन्होंने पीएम मोदी की जमकर तारीफ की.

- अंत में पीएम मोदी ने डोनाल्ड ट्रंप को सपरिवार भारत आने का निमंत्रण दिया.

इससे पहले राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप भी व्हाइट हाउस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत करने के लिए मौजूद रहीं. दोनों नेताओं की मुलाकात के बाद प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत हुई. इसमें आतंकवाद और व्यापार प्रमुख मुद्दा रहा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi