S M L

अमेरिका में मुस्लिम मुक्केबाज को हिजाब में खेलने का अधिकार मिला

फिलहाल यह मंजूरी सिर्फ अमेरिका में होने वाली बॉक्सिंग के लिए मिली है

Bhasha | Published On: Apr 23, 2017 05:15 PM IST | Updated On: Apr 23, 2017 05:16 PM IST

अमेरिका में मुस्लिम मुक्केबाज को हिजाब में खेलने का अधिकार मिला

टोक्यो 2020 ओलंपिक में हिस्सा लेने वाली एक मुस्लिम मुक्केबाज का सपना पूरा होने वाला है. 16 साल की अमेरिकी मुस्लिम मुक्केबाज को अब अमेरिका में हिजाब पहनकर फाइट करने का अधिकार मिल गया है. महिला अब हाथ पैर ढककर रिंग में उतर सकती है.

क्या है मामला?

मिनोसेटा के ओकडेल की अमया जफर को धर्म और रिंग में से किसी एक चुनना था. लेकिन हाल ही में उन्हें हिजाब पहनकर रिंग में उतरने की इजाजत मिल गई.

द स्टार ट्रिब्यून की खबर के अनुसार अमया अमेरिका में रिंग में उतर सकती है. अमेरिका में मिली इस छूट के बाद अमया अपने धार्मिक मान्यताओं को पूरा कर सकती हैं. साथ ही इसके लिए उसे बिना बांह की जर्सी और घुटने से उपर तक की जर्सी भी नहीं पहनना पड़ेगा.

क्या है अमया के कोच का कहना? 

अमया के कोच नथानियल हेली ने कहा, 'यह बड़ा कदम है. उसने इसके लिए काफी मेहनत की. उसे अपना कौशल दिखाने का अधिकार मिला और मुझे उसके लिए खुशी है.'

उन्होंने कहा, 'लेकिन यह सपने साकार करने की उसकी राह का पहला कदम है.'

अमया की नजरें अब 2020 टोक्यो ओलंपिक पर टिकी हैं. हालांकि अभी समस्या पूरी तरह खत्म नहीं हुई है. टोक्यो ओलंपिक में शामिल होने के लिए उसे अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ (एआईबीए) से भी इसी तरह की छूट हासिल करनी होगी. फिलहाल अमया को यह मंजूरी सिर्फ अमेरिका में मुक्केबाजी के लिए मिली है.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi