S M L

ब्रिटेन में त्रिशंकु संसद, बहुमत से दूर रह गईं टेरेसा मे

लग रहा है कि ब्रिटेन में इस बार किसी को सीधा बहुमत नहीं मिलेगा

FP Staff Updated On: Jun 09, 2017 01:45 PM IST

0
ब्रिटेन में त्रिशंकु संसद, बहुमत से दूर रह गईं टेरेसा मे

ब्रिटेन में हुए आम चुनाव के बाद वोटों लगभग पूरी हो गई है. नतीजों से ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरेसा मे के नेतृत्व वाली कंजरवेटिव पार्टी की स्पष्ट बहुमत पाने की उम्मीदों को झटका लगा है. ब्रिटेन में त्रिशंकु संसद की स्थिति बन गई है.

खबर लिखे जाने तक लेबर पार्टी 261 सीटें जीत चुकी हैं जबकि कंजरवेटिव पार्टी को 316 सीटें मिली हैं. स्कॉटिश नेशनल पार्टी को अबतक 35 और लिबरल डेमोक्रेट्स को 12 सीटें मिल रही हैं. बहुमत का आंकड़ा 326 का है. फिलहाल 650 में से 647 सीटों के रुझान सामने आ गए हैं.

मे को झटका

वैसे तो नतीजों में कंजरवेटिव पार्टी सबसे आगे है लेकिन फिर भी इन नतीजों को प्रधानमंत्री मे के खिलाफ देखा जा रहा है. पीएम मे ने अपनी और सरकार की लोकप्रियता पर भरोसा करते हुए मध्यावधि चुनाव कराए थे. गौरतलब है कि मे डेविड कैमरन के इस्तीफे के बाद प्रधानमंत्री बनी थीं. कैमरन ने ब्रेजिग्ट पर जनमत संग्रह कराया था. कैमरन ब्रिटेन को यूरोपीय संघ में रखने के पक्षधर थे लेकिन जनमत संग्रह में ब्रेग्जिट समर्थकों की जीत हुई थी जिसके बाद कैमरन ने पद छोड़ दिया था.

टेरेसा मे ने पीएम बनने के बाद ब्रेग्जिट के लिए जरूरी प्रक्रिया को आगे बढ़ाया था.

नतीजे सामने आने के बाद लेबर पार्टी के नेता जेरमी कॉर्बिन ने टेरेसा मे से पद छोड़ने की मांग की है. हालांकि कंजरवेटिव पार्टी सूत्रों के अनुसार, मे इस्तीफा नहीं देंगी.

पाउंड धड़ाम

इस बीच पाउंड में तेज गिरावट का रुख है. बीबीसी के मुताबिक, शेयर बाजार को कंजरवेटिव पार्टी की स्पष्ट जीत की उम्मीद थी लेकिन रुझानों में पार्टी को बहुमत मिलता नजर नहीं आ रहा है. पाउंड स्टर्लिग में 1.27 डॉलर की गिरावट रही, जो गुरुवार के स्तर की तुलना में दो से ढाई फीसदी टूटा है.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi