S M L

कुलभूषण जाधव: 18 साल बाद इंटरनेशनल कोर्ट में फिर भिड़ेंगे भारत-पाक

दोपहर 1:30 बजे कोर्ट में अपना पक्ष रखेगा भारत

FP Staff | Published On: May 15, 2017 09:15 AM IST | Updated On: May 15, 2017 09:17 AM IST

कुलभूषण जाधव: 18 साल बाद इंटरनेशनल कोर्ट में फिर भिड़ेंगे भारत-पाक

पाकिस्तान में मौत की सजा पाए भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के मामले में सोमवार को इंटरनेशनल कोर्ट में सार्वजनिक सुनवाई की जाएगी. भारत इस मामले में पाकिस्तान द्वारा किए गए नियमों के उल्लंघन पर अपना पक्ष रखेगा.

ये सुनवाई भारतीय समयानुसार दोपहर 1:30 बजे शुरू होगी. पहले भारत अपना पक्ष रखेगा उसके बाद शाम साढ़े छह बजे पाकिस्तान के वकील अपनी बात रखेंगे. इस केस में भारत की पैरवी जाने-माने वकील हरीश साल्वे करेंगे.

बीते 10 अप्रैल को पाकिस्तान की मिलिट्री कोर्ट ने जाधव को जासूसी और देशद्रोह के जुर्म में फांसी की सजा सुनाई थी.

भारत ने कहा है कि कुलभूषण जाधव पूर्व नेवी अधिकारी और बिजनेसमैन हैं जिन्हें ईरान से गिरफ्तार किया गया है जबकि पाकिस्तान का कहना है कि उन्होंने कुलभूषण को बलूचिस्तान से गिरफ्तार किया है.

पूरे मामले को विएना कन्वेंशन का उल्लंघन बताते हुए भारत ने 8 मई को अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में याचिका दी थी. अपनी याचिका में भारत ने भी ये भी कहा है कि लाख कोशिशों के बावजूद पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव से भारतीय राजनयिकों को नहीं मिलने दिया. भारत कि ये भी दलील है कि कुलभूषण जाधव को फांसी की जानकारी उसे एक प्रेस रिलीज के जरिए दी गई.

1999 में दोनों देश आए थे आमने-सामने

इससे पहले भारत और पाकिस्तान 18 साल पहले इंटरनेशनल कोर्ट में आमने-सामने आए थे. 10 अगस्त, 1999 भारतीय वायु सेना ने कच्छ क्षेत्र में पाकिस्तानी नौसेना के विमान 'अटलांटिक' को मार गिराया था. विमान में सवार सभी 16 नौसैनिक कर्मी मारे गए थे.

इसके बाद पाकिस्तान ने यह दावा किया था कि नौसैनिकों को उसके ही क्षेत्र में मारा गया है, लिहाजा उसने भारत से छह करोड़ अमेरिकी डॉलर के हर्जाने की मांग की थी. 21 जून, 2000 को अदालत की 16 सदस्यीय पीठ ने पाकिस्तान के दावे को 14-2 के बहुमत से खारिज कर दिया था.

देख सकते हैं लाइव

इस केस को युनाइटेड नेशंस के वेब टीवी पर लाइव प्रसारित किया जाएगा. साथ ही इसे इंटरनेशनल कोर्ट की वेबसाइट पर भी लाइव देखा जा सकता है.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi