S M L

'मिसाइल लॉन्च...जल्दी छुपिए', जापान में दहशत के वो पल

आम लोग बताते हैं कि अगर इस तरह से चलता रहा तो ये डर उनके दैनिक जीवन का हिस्सा बन जाएगा

FP Staff Updated On: Sep 15, 2017 03:24 PM IST

0
'मिसाइल लॉन्च...जल्दी छुपिए', जापान में दहशत के वो पल

'मिसाइल लॉन्च! मिसाइल लॉन्च! लगता है नॉर्थ कोरिया ने मिसाइल लॉन्च किया है. किसी बिल्डिंग या किसी तहखाने में छुप जाइए.'

जोरदार सायरन और इमरजेंसी फोन कॉल्स के बीच लाउडस्पीकर से दिए जा रहे इस डरावने संदेश ने लाखों जापानियों को अहले सुबह उनकी नींद से जगा दिया. नॉर्थ कोरिया ने एक महीने के अंदर दूसरी बार जापान के ऊपर से मिसाइल छोड़ दिया था.

उत्तरी जापान के होक्काइडो द्वीप पर रहने वाले लोगों के लिए यह बेहद भयावह अनुभव था. आपके सिर के ऊपर से मिसाइल कोई रोज-रोज थोड़े ही गुजरता है. 'हमारे लिए यह बेहद खौफनाक था. मिसाइल हमारे शहर के ठीक ऊपर से गया. आप समझ सकते हैं हमें कैसा लगा होगा', होक्काइडो द्वीप के मुख्यतः मछुआरों वाले शहर एरिमो में काम करने वाले योशिहिरो साइतो ने बताया.

जापानियों में खौफ

भूकंप प्रभावित क्षेत्र होने के चलते जापानियों को इस तरह के इमरजेंसी हालात में छुप कर जान बचाने का लंबा अनुभव है पर जब ऐसा मामला हो जिसमें मिसाइल के लॉन्च और उसके विस्फोट में महज चंद मिनटों का अंतर हो तो असहाय महसूस करना और डर लगना लाजमी है.

Passersby are reflected in a TV screen reporting news about North Korea's leader Kim Jong Un and their missile launch, in Tokyo, Japan, September 15, 2017. REUTERS/Issei Kato - RC19909D6E70

57 साल के मछली पालन अधिकारी योइची ताकाहाशी ने घबराहट भरे स्वर में कहा, 'अब तो यह दो बार हो गया है, अब से हमारे लिए चैन से सो पाना मुश्किल होगा.'

रेस्तरां मालिक इसामू ओया कहते हैं, 'सरकार हमें किसी मजबूत बिल्डिंग में शरण लेने के लिए कहती है लेकिन यहां तो ऐसा कोई बिल्डिंग है ही नहीं, हम कहां जाएंगे. हम असहाय हैं.'

सुबह के वक्त जब आम तौर पर बच्चों के प्रोग्राम या गैजेट शो हुआ करते थे तब टीवी पर चेतावनी संदेश आने लगे कि बैलिस्टिक मिसाइल छोड़ा गया है. सारे टेलीकॉम कंपनियों ने भी सबको चेतावनी के आटोमेटिक एसएमएस भेज दिए. सामान्य और बुलेट ट्रेन सेवाएं भी रोक दी गईं.

आबे ने बताया बर्दाश्त के बाहर

उत्तर कोरिया ने दावा किया है कि उसने ऐसे हाइड्रोजन बम का सफल परीक्षण किया है जिसे लंबी दूरी की मिसाइल पर लगाया जा सकता है. विश्लेषकों का कहना है कि यह उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम में एक बड़ा कदम है.

घटना से गुस्साए जापानी पीएम शिंज़ो आबे ने कहा कि उनका देश इस तरह के खतरनाक उकसावे को कतई बर्दाश्त नहीं कर सकता. आबे कुछ घंटों पहले ही भारत से अपनी दो दिनों की यात्रा खत्म कर लौटे थे.

इससे जापान की किसी क्षति की कोई खबर नहीं है पर इस तरह बिना चेतावनी के ऐसे मिसाइल लॉन्च से किसी भी समुद्री या हवाई जहाज को नुकसान हो सकता था.

आम लोग बताते हैं कि अगर इस तरह से लगातार चलता रहा तो यह डर उनके दैनिक जीवन का हिस्सा बन जाएगा.

(एएफपी के इनपुट पर आधारित)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi