S M L

इवांका ट्रंप का भारत आना मोदी के अमेरिका दौरे की बड़ी सफलता है

इवांका ट्रंप के भारत आने का महत्व केवल सांकेतिक नहीं है

Pawas Kumar | Published On: Jun 28, 2017 12:17 PM IST | Updated On: Jun 28, 2017 02:00 PM IST

0
इवांका ट्रंप का भारत आना मोदी के अमेरिका दौरे की बड़ी सफलता है

अमेरिका के दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात की और दोनों नेताओं ने कई अहम मुद्दे पर चर्चा की. दोनों की गर्मजोशी देखने लायक थी. लेकिन इस पूरे दौरे पर पीएम मोदी ने शायद जो सबसे बड़ी कूटनीतिक सफलता हासिल की, वह थी इवांका ट्रंप को भारत आने का न्योता देना.

पीएम मोदी ने राष्ट्रपति ट्रंप की बेटी इवांका और उनके पति जैरेड कुशनर को इस साल भारत में होने वाले ग्लोबल इंट्रप्रेन्योरशिप समिट (जीईएस) में अमेरिका का प्रतिनिधित्व करने के लिए आमंत्रित किया है. इवांका ने इसे स्वीकार भी कर लिया है.

इंडियन एक्सप्रेस में ज्योति मल्होत्रा लिखती हैं कि डोनाल्ड ट्रंप जीईएस समिट को आगे जारी नहीं रखने को लेकर मन बना चुके थे लेकिन मोदी भारत में इसे जारी रखने और इसके लिए इवांका को निमंत्रित करने के लिए काफी उत्साहित थे.

इवांका के आने का मतलब क्या है

इवांका ट्रंप के भारत आने का महत्व केवल सांकेतिक नहीं है. इवांका को फिलहाल अमेरिका में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके सलाहकार स्टीव बैनन के बाद सबसे प्रभावशाली शख्सियत माना जाता है. उनके पति जैरेड कुशनर भी प्रशासन में बहुत अहम रोल में हैं. इवांका पिता के दिल के काफी करीब मानी जाती हैं और उन कुछेक लोगों में से हैं जिनकी बात डोनाल्ड ट्रंप सुनते हैं.

Donald Trump, Ivanka Trump

तभी तो पीएम मोदी के इस न्योते की तारीफ करते हुए जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने चालाक रणनीति बताते हुए कहा है कि प्रधानमंत्री ने ट्रंप की कमजोरी पकड़ ली.

उमर का यह ट्वीट भले ही पीएम पर एक कटाक्ष हो, लेकिन इसमें कोई शक नहीं इवांका ट्रंप फिलहाल अमेरिका की राजनीति में अहम भूमिका रखती हैं. चीन के ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक इवांका ट्रंप 'सबसे प्रभावशाली फर्स्ट डॉटर' हैं और उनके शब्दों और कार्यों की वाशिंगटन में बेहद अहमियत है. कहा जाता है कि 34 साल की इवांका अपने पिता के हर फैसले में साझीदार होती है. ऐसे में इवांका ट्रंप का भारत दौरा भारत के लिए ट्रंप के करीब होने का शानदार मौका हो सकता है.

इवांका के पति जैरेड कुशनर को अमेरिका की विदेश नीति से जुड़ा सलाहकार बनाया गया है. ऐसे में कुशनर का भी भारत आना अमेरिकी प्रशासन और विशेष तौर पर डोनाल्ड ट्रंप के मूड को समझने में सहायक हो सकता है. इवांका का दौरा आधाकारिक संबंधों को बहुत आगे भले न बढ़ाए लेकिन राष्ट्रपति ट्रंप से भारत के पर्सनल रिश्तों की दिशा तय करने लिए अहम हो सकता है.

Donald Trump, Melania Trump, Ivanka Trump, Jared Kushner

आधिकारिक आयोजनों में भी दिखा महत्व

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की यात्रा के दौरान आधिकारिक डिनर में इवांका और जैरेड को चीनी राष्ट्रपति और उनकी पत्नी की बगल वाली सीट मिली थी. ट्रंप के घर मार-अ-लागो में हुए स्वागत समारोह में इवांका के बच्चों ने कविताएं और चीनी गीत सुनाकर मेहमानों का मनोरंजन किया था. जब डोनाल्ड ट्रंप चीन के नववर्ष पर एक ट्वीट भी नहीं कर पाए तो यह इवांका ही थीं जिन्होंने चीनी दूतावास पहुंचकर नए साल का जश्न मनाया था. अन्य महत्वपूर्ण बैठकों में भी वह नजर आई हैं.

चुनाव अभियान के समय भी रही थी अहम भूमिका

इवांका ट्रंप ने डोनाल्ड ट्रंप के चुनाव अभियान में भी अहम भूमिका निभाई थी. क्लीवलैंड में रिपब्लिकन पार्टी के कन्वेंशन में इवांका ने भाषण भी दिया था. कहा जाता है कि महिला वोटर्स को ट्रंप की ओर खींचने में इवांका की भूमिका महत्वपूर्ण रहीं. जब उनके पिता महिलाओं के प्रति दुर्व्यवहार और घटिया कमेंट्स के लिए विवादों में घिरे तो इवांका ने उनका जमकर बचाव किया.

एक मजबूत शख्सियत वाली छवि

इवांका की छवि एक युवा इंट्रप्रेन्योर, अनुभवी बिजनेसवुमेन और स्वतंत्र महिला महिला की है. अपनी किताबों में वह खुद को एक ऐसी लड़की के रूप में दिखाती हैं जिसने एक अमीर पिता की संतान होने के बाद भी जमीन से शुरुआत की. वह कहती हैं कि दूसरी महिलाओं की तरह उन्हें भी काम के दौरान आम समस्याओं का सामना करना पड़ा. वह अपने भाषणों में महिला समानता की बातें करती हैं. आलोचक भले ही उनको गंभीरता से न लें, लेकिन इसमें कोई शक नहीं कि अपने पिता की तुलना अमेरिकियों के बीच अधिक पॉपुलर हैं.

Ivanka Trump, Arabella Kushner

भारत में मिल सकता है व्यापार का मौका

इवांका ट्रंप एक सफल बिजनेस भी चलाती हैं. जिस दिन चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग मार-अ-लागो में इवांका के बच्चों से चीनी लोकगीत सुन रहे थे, उसी दिन चीन ने इवांका की कंपनी के तीन ट्रेडमार्कों को मंजूरी दी थी. चीन इवांका के लिए बड़ा बाजार है- अब पीएम मोदी की उम्मीद होगी कि 'नए भारत' का नया बाजार भी इवांका को आकर्षित कर पाएगा.

ग्लैमर में भी काफी ऊपर

इवांका ट्रंप फिलहाल अमेरिकी महिलाओं के लिए एक फैशन आइकन हैं. तीन बच्चों की मां इवांका अपने शानदार ड्रेसिंग सेंस, सॉफिस्टिकेटेड लुक के लिए जानी जाती हैं. वह गूगल पर सबसे अधिक सर्च की जाने वाली महिलाओं में हैं. जाहिर है जब इवांका भारत आएंगी तो राजनीतिक और कूटनीतिक गलियारों के अलावा फैशन स्ट्रीट पर भी उनके चर्चे होंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi