S M L

भारतीय मूल की लड़की का दिमाग आइंस्टीन से भी तेज

राजगौरी ने 162 अंक हासिल किए जो आइंस्टीन और हॉकिंग के आईक्यू के मुकाबले दो अंक अधिक है

Bhasha | Published On: May 06, 2017 07:15 PM IST | Updated On: May 06, 2017 07:15 PM IST

भारतीय मूल की लड़की का दिमाग आइंस्टीन से भी तेज

ब्रिटेन में भारतीय मूल की 12 वर्षीय लड़की को दिमागी तौर पर अलबर्ट आइंस्टीन और स्टीफन हॉकिंग से भी तेज बताया गया है. इस लड़की को एक प्रमुख सोसायटी के सदस्य के तौर पर आमंत्रित भी किया गया है.

राजगौरी पवार पिछले महीने मैनचेस्टर में ‘ब्रिटिशर मेन्सा आईक्यू टेस्ट’ में शामिल हुई थी और इसमें उसने 162 अंकों का स्कोर हासिल किया जो 18 साल से कम उम्र के लिए सर्वाधिक है.

अब राजगौरी को प्रतिष्ठित सोसायटी ‘मेन्सा आईक्यू’ में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया है.

बुद्धिमत्ता के आकलन की इस परीक्षा में शामिल राजगौरी ने 162 अंक हासिल किए जो आइंस्टीन और हॉकिंग के आईक्यू के मुकाबले दो अंक अधिक है.

मेन्सा ने कहा कि भारतीय मूल यह लड़की विलक्षण बुद्धिमत्ता की है क्योंकि विश्व भर में 20,000 लोग ही इतना अधिक स्कोर पाने में सफल रहे .

राजगौरी के पिता सूरज कुमार पवार ने कहा, ‘यह उसके शिक्षकों के प्रयासों के बिना संभव नहीं होता. मेरी बेटी को स्कूल से भी पूरा सहयोग मिला है.’

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi