S M L

पीएम का कजाकिस्तान दौरा: एससीओ सदस्य बनेंगे भारत-पाक, लेकिन नहीं मिलेंगे मोदी-नवाज

नवाज शरीफ गुरुवार सुबह अस्‍ताना पहुंच रहे हैं जबकि मोदी दोपहर को वहां पहुंचेंगे

FP Staff | Published On: Jun 08, 2017 10:01 AM IST | Updated On: Jun 08, 2017 10:37 AM IST

पीएम का कजाकिस्तान दौरा: एससीओ सदस्य बनेंगे भारत-पाक, लेकिन नहीं मिलेंगे मोदी-नवाज

भारत और पाकिस्तान शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के सदस्य बन जाएंगे लेकिन दोनों देशों के नेताओं के बीच बातचीत नहीं होगी. एससीओ की बैठक के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कजाकिस्तान की राजधानी अस्ताना में होंगे लेकिन विदेश मंत्रालय साफ कर चुका है कि उनका पाकिस्‍तानी पीएम नवाज शरीफ से मिलने का कोई कार्यक्रम नहीं है. वैसे अस्‍ताना में दोनों की अनाधिकारिक तौर पर अनौपचारिक भेंट हो सकती है.

आठ-नौ जून को हो रही शंघाई कोऑपरेटिव ऑर्गेनाइजेशन (एससीओ) की शिखर बैठक में भारत और पाकिस्तान को पूर्णकालिक सदस्य का दर्जा दे दिया जाएगा. इसकी प्रक्रिया पिछले साल जून से शुरू हुई थी. दोनों देशों ने इसके लिए मेमोरेंडम ऑफ आब्लिगेशन पर दस्तखत किए हैं. इसमें सभी सदस्य देशों का आपस में सहयोग बड़ी शर्त है.

ऐसे में एससीओ के सभी पुराने सदस्य देश चाहेंगे कि भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में सुधार आए. फिलहाल चीन, रूस, कजाकिस्तान, ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान एससीओ के सदस्य हैं. हालांकि भारत साफ़ कह चुका है कि आतंकवाद और बातचीत साथ-साथ नहीं चल सकते. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी कह चुकी हैं कि पीएम नरेंद्र मोदी और नवाज शरीफ की यहां अस्ताना में कोई मुलाकात होगी.

नवाज शरीफ गुरुवार सुबह अस्‍ताना पहुंच रहे हैं जबकि मोदी दोपहर को वहां पहुंचेंगे. पीएम मोदी के अस्ताना में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मिलने से मिलने की संभावना है.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi