S M L

हेराफेरी करने पर यूरोपियन यूनियन ने लगाया गूगल पर भारी जुर्माना

काफी लंबे वक्त से आरोप लग रहा था कि गूगल इंटरनेट सर्च में हेरा-फेरी कर रहा है

FP Staff | Published On: Jun 27, 2017 09:44 PM IST | Updated On: Jun 27, 2017 09:44 PM IST

0
हेराफेरी करने पर यूरोपियन यूनियन ने लगाया गूगल पर भारी जुर्माना

यूरोपियन यूनियन ने मंगलवार को गूगल पर भारी जुर्माना लगाया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह जुर्माना इंटरनेट सर्च के गलत इस्तेमाल करने को लेकर लगा है. ईयू ने गूगल पर 2.42 बिलियन यूरो (2.7 बिलियन डॉलर) का जुर्माना लगाया गया है. गूगल के पास इंटरनेट सर्च का एकाधिकार है. काफी लंबे वक्त से आरोप लग रहा था कि गूगल इंटरनेट सर्च में हेरा-फेरी कर रहा है. इसे लेकर जांच चल रही थी.

सात साल से चल रही थी जांच

गूगल पर सात साल की जांच के बाद यूरोपियन यूनियन ने यह जुर्माना लगाया है. साल 2010 से इसे लेकर जांच चल रही थी. यूरोपियन यूनियन का कहना है कि गूगल सर्च इंजन मैन्यूप्लेट करने का दोषी पाया गया है. कंपनी ने सर्च इंजन का दुरूपयोग कर अपनी नई शॉपिंग सर्विस को फायदा पहुंचाया है. गूगल टॉप सर्च इंजन में खुद की शॉपिंग साइट सर्विस को प्रमोट कर रहा था.

गूगल पर और सख्ती बरत सकता है EU

'बीबीसी' के मुताबिक अगर गूगल ने 90 दिनों के अंदर अपनी एंटी-कॉम्पटेटिव प्रैक्टिस को खत्म नहीं किया तो उसपर और जुर्माना लग सकता है. अगर गूगल ऐसा नहीं करता है तो उसे अपनी पैरेंट कंपनी अल्पाबेट इंक के प्रति दिन के औसत कारोबार का 5 फीसदी जुर्माने देना होगा.

साभार: न्यूज़18 हिंदी

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi