S M L

मिस्र: चर्च पर आईएसआईएस हमले में 45 की मौत, आपातकाल घोषित

हाल के वर्षों में यहां अल्पसंख्यक ईसाइयों पर किया गया यह सबसे बड़ा हमला

Bhasha | Published On: Apr 10, 2017 09:57 AM IST | Updated On: Apr 10, 2017 09:57 AM IST

0
मिस्र: चर्च पर आईएसआईएस हमले में 45 की मौत, आपातकाल घोषित

मिस्र के दो शहरों तांता और अलेक्जेंड्रिया में आईएसआईएस द्वारा किए गए दो अलग-अलग बम धमाकों में कम से कम 45 लोगों की मौत हो गई और 120 अन्य घायल हो गए. धमाकों में रविवार की प्रार्थना के लिए कॉप्टिक चर्चों में जुटे श्रद्धालुओं की भीड़ को निशाना बनाया गया था.

हाल के वर्षों में यहां अल्पसंख्यक ईसाइयों पर किया गया यह सबसे बड़ा हमला है.

मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतेह अल-सीसी ने देश में तीन महीने के आपातकाल का एलान किया है. फैसला राष्ट्रीय रक्षा परिषद की बैठक के बाद किया गया.

देश के स्वास्थ्य मंत्रालय के एक बयान के मुताबिक पहला धमाका काहिरा से करीब 120 किलोमीटर दूर नील डेल्टा में तांता शहर के सेंट जॉर्ज कॉप्टिक चर्च में हुआ. इसमें 27 लोगों की मौत हो गयी जबकि 78 अन्य घायल हो गए.

सुरक्षा सूत्रों ने कहा कि शुरुआती जांच में संकेत मिले हैं कि ईस्टर से पहले के रविवार के मौके पर चर्च में ईसाई प्रार्थना के दौरान एक शख्स ने चर्च में विस्फोटक उपकरण रखे. हालांकि कुछ लोगों का यह भी कहना है कि एक आत्मघाती हमलावर ने इस हमले को अंजाम दिया.

विस्फोट में चर्च के हॉल में अगली कतार में बैठे लोगों को निशाना बनाया गया था. इस धमाके में मारे जाने वालों में तांता कोर्ट के प्रमुख सैमुअल जार्ज भी शामिल हैं.

इसके कुछ घंटों बाद अलेक्जेंड्रिया के मनशिया जिले के सेंट मार्क्‍स कॉप्टिक ऑर्थोडॉक्स कैथ्रेडल में भी एक आत्मघाती हमलावर ने धमाका किया. इस धमाके में पुलिस कर्मियों समेत कम से कम 18 लोगों की मौत हो गई जबकि 41 अन्य घायल हो गए.

इस्लामिक स्टेट ने दोनों ही विस्फोटों की जिम्मेदारी ली है. आईएसआईएस की संवाद समिति अमाक ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर कहा, 'इस्लामिक स्टेट दस्तों ने तांता और अलेक्जेंड्रिया में दोनों गिरजाघरों पर हमलों को अंजाम दिया.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi