S M L

आतंकवाद के खिलाफ साझा मोर्चा बनाएंगे डोनाल्ड ट्रंप

ट्रंप सउदी अरब, इजरायल, वेटिकन, बेल्जियम और इटली सहित नौ देशों की यात्रा कर रहे हैं

Bhasha | Published On: May 20, 2017 06:01 PM IST | Updated On: May 20, 2017 06:01 PM IST

आतंकवाद के खिलाफ साझा मोर्चा बनाएंगे डोनाल्ड ट्रंप

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि ‘दुनिया के तीन महान धर्मों से संबद्ध देशों’ की उनकी आने वाली विदेश यात्रा का लक्ष्य आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में सदस्य देशों को एकजुट करना है.

सउदी अरब, इस्राइल, वेटिकन, बेल्जियम और इटली सहित नौ देशों की यात्रा पर रवाना ट्रंप ने अपने सप्ताहिक वेब और रेडियो के माध्यम से देश को संबोधित करते हुए कहा कि वह अमेरिका के लोगों के विचारों का स्पष्ट और साफ तौर पर प्रतिनिधित्व करेंगे.

ट्रंप ने कहा, ‘मैं विभिन्न देशों के नेताओं के साथ हमारी पुरानी दोस्ती को मजबूत करने, नई साझेदारियां तैयार करने और आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में सदस्य देशों को एकजुट करने के लिए यात्रा करूंगा.’

राष्ट्रपति की यात्रा से पहले ही यह संबोधन रिकॉर्ड हो गया था और उनके रियाद रवाना होने के बाद यह जारी किया गया.

अमेरिका अकेले नहीं कर सकता सारी समस्याओं का हल 

उन्होंने कहा, ‘मैं सबसे पहले मुस्लिम दुनिया के दिल सउदी अरब में रुकूंगा. मैं दुनिया के 50 से ज्यादा मुस्लिम देशों के नेताओं को संबोधित करूंगा.'

ट्रंप ने कहा कि दुनिया के कई नेताओं ने बढ़ते आतंकवाद को लेकर, कट्टरपंथी सोच के फैलाव और ईरान के इन दोनों का वित्त पोषण करने को लेकर चिंता जाहिर की है.

उन्होंने कहा, ‘अब ऐसा सामने आया है कि मुस्लिम नेता अपने क्षेत्रों में आतंकवाद से लड़ाई के लिए ज्यादा जिम्मेदारी लेने और अहम योगदान अदा करने के लिए तैयार हैं. अब समय आ गया है कि हम साथ मिलकर इसे करेंगे.’

ट्रंप ने कहा, ‘अमेरिका दुनिया की सारी समस्याओं का हल नहीं कर सकता है. लेकिन धरती से आतंकवाद को खत्म करने के संयुक्त लक्ष्य में शामिल होने वाले किसी भी देश की मदद कर सकता है और करेगा.’

सउदी अरब में राष्ट्रपति ने कहा कि वह इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के साथ बातचीत करने के लिए येरुशलम के प्राचीन शहर की यात्रा करेंगे. यह यात्रा दोनों ही देशों में शांति बहाली और समद्धि के लिए होगी.

राष्ट्रपति का अगला पड़ाव वेटिकन होगा. राष्ट्रपति ने कहा कि वहां पोप फ्रांसिस का श्रोता के रूप में मौजदू होना उनके लिए सम्मान की बात होगी.

राष्ट्रपति ने कहा, ‘मैं दोस्तों और सहयोगियों से नाटो के समारोह में ब्रुसेल्स और इटली में होने वाले जी-7 सम्मेलन में मिलूंगा.’

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi