S M L

डोनाल्ड ट्रंप और शिंजो अबे ने की उत्तर कोरिया से ‘बढ़ते खतरे’ पर चर्चा

यह चर्चा उत्तर कोरिया की उस घोषणा की पृष्ठभूमि में हुई है जिसमें उसने हाइड्रोजन बम के परीक्षण का ऐलान किया है

Bhasha Updated On: Sep 03, 2017 10:23 PM IST

0
डोनाल्ड ट्रंप और शिंजो अबे ने की उत्तर कोरिया से ‘बढ़ते खतरे’ पर चर्चा

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे ने उत्तर कोरिया की तरफ से ‘बढ़ रहे खतरे’ पर चर्चा की और दोनों नेताओं ने करीबी सहयोग की महत्ता पर जोर दिया.

यह चर्चा उत्तर कोरिया की उस घोषणा की पृष्ठभूमि में हुई है जिसमें उसने छठे परमाणु परीक्षण, हाइड्रोजन बम के परीक्षण का ऐलान किया है और सरकारी मीडिया ने इसे ‘पूरी तरह से सफल’ बताया है. इस उपकरण में लंबी दूरी की मिसाइलों में लोड किए जाने की क्षमता है.

व्हाइट हाउस ने एक सप्ताह के भीतर इन दोनों नेताओं के बीच तीसरी बार हुई बातचीत बताते हुए एक बयान में कहा, ‘राष्ट्रपति डोनाल्ड जे ट्रंप ने उत्तर कोरिया पर दबाव बढ़ाने के प्रयासों पर आज प्रधानमंत्री शिंजो अबे से चर्चा की.’ हालांकि इस बयान में यह स्पष्ट नहीं है कि यह बातचीत उत्तर कोरिया द्वारा ताजा परीक्षण से पहले हुई है या बाद में.

व्हाइट हाउस के मुताबिक, ट्रंप और अबे ने उत्तर कोरिया की ओर से बढ़ते खतरे के मद्देनजर अमेरिका, जापान और दक्षिण कोरिया के बीच करीबी सहयोग की महत्ता पर जोर दिया.

ट्रंप त्रिपक्षीय सहयोग के इच्छुक 

व्हाइट हाउस ने कहा, ‘ट्रंप त्रिपक्षीय सहयोग को आगे बढ़ाने के इच्छुक हैं.’ ट्रंप ने शनिवार को दक्षिण कोरिया के नेता मून जे-इन से भी बात की थी और उनके साथ उत्तर कोरिया के ‘अस्थिर और उकसाने वाले बर्ताव’ से निपटने की समन्वित प्रतिक्रिया पर चर्चा की.

इस बीच, एएफपी द्वारा टोक्यो से दी खबर के अनुसार, जापान के प्रधानमंत्री अबे ने उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण को ‘पूरी तरह से अस्वीकार्य’ बताते हुए इसकी निंदा की. उन्होंने कहा कि यह परमाणु और मिसाइल कार्यक्रम उनके देश के लिए और अधिक गंभीर खतरा पैदा करता है.

अबे ने एक बयान में कहा कि यह क्षेत्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय शांति एवं स्थिरता को प्रभावशाली रूप से नुकसान पहुंचा रहा है.

उन्होंने कहा, ‘हमारा देश उत्तर कोरिया के खिलाफ कड़ा विरोध दर्ज कराता है और कड़े शब्दों में इसकी निंदा करता है.’ उधर, दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल से खबर मिली है कि उत्तर कोरिया की शीर्ष समाचार वाचक रविवार को देश के ‘कोरियन सेंट्रल टेलीविजन’ पर नजर आईं और उन्होंने हाइड्रोजन बम के परीक्षण के सफलता की घोषणा की.

लगभग 70 वर्ष की री चुन ही इससे पहले देश के संस्थापक किम इल सुंग और उनके बेटे किम जांग इल के निधन और कई परमाणु परीक्षणों जैसी महत्वपूर्ण घटनाओं के वक्त इस चैनल पर आकर इन खबरों की घोषणा कर चुकी हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi