S M L

डोनाल्ड ट्रंप बोले, 'बाय अमेरिकन, हायर अमेरिकन' की नीति पर चलेंगे

राष्ट्रपति ट्रंप अमेरिका के लिए आशावादी नीतियों का जिक्र करेंगे.

FP Staff | Published On: Mar 01, 2017 07:30 AM IST | Updated On: Mar 01, 2017 09:48 AM IST

डोनाल्ड ट्रंप बोले, 'बाय अमेरिकन, हायर अमेरिकन' की नीति पर चलेंगे

डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति बनने के बाद पहली बार अमेरिकी कांग्रेस को संबोधित किया. उन्होंने इस भाषण के दौरान इमिग्रेशन पर सख्ती को लेकर अपनी बात दुहराई. अमेरिकी कांग्रेस ने कंसास में एक भारतीय की हत्या को लेकर एक मिनट का मौन भी रखा और डोनाल्ड ट्रंप ने इस हमले की निंदा की है.

'बाय अमेरिकन, हायर अमेरिकन'

ट्रंप ने साफ कर दिया कि उनकी नीति है, बाय अमेरिकन, हायर अमेरिकन- यानी अमेरिकी चीजें खरीदो और अमेरिकियों को नौकरी पर रखो. उन्होंने कहा कि अमेरिका को अपने नागरिकों को पहले रखना होगा. इसी के बाद हम अमेरिका को सही मायने में फिर महान बना सकेंगे.

ट्रंप ने कहा कि देश में मरते उद्योगों को फिर से जिंदा किया जाएगा. देश के लिए अपनी सेवाओं को देने वालों का ध्यान रखा जाएगा. यह उनकी जरूरत भी है और हमारी जिम्मेदारी भी है. हमारे उपेक्षित छोटे शहरों में उम्मीद जगेगी, सुरक्षा और संभावनाएं बढ़ेंगी.

उन्होंने फर्जी इमिग्रेशन रोकने के लिए मेक्सिको सीमा पर एक दीवार बनाने की बात भी फिर से की. ट्रंप ने कहा, 'देश की दक्षिणी सीमाओं पर दीवार का निर्माण जल्द शुरू किया जाएगा.'

सुरक्षा के लिए कड़े कदम उठाएंगे

ट्रंप ने कहा कि देश में इस्लामिक कट्टरपंथी आतंकवाद को रोकने के लिए कड़े कदम उठाए जाएंगे. उन्होंने कहा है कि देश की सुरक्षा के लिए बजट 10 प्रतिशत की दर से बढ़ाया जाएगा.

ट्रंप ने कहा कि उन्होंने रक्षा मंत्रालय को निर्देश दिया है कि वह आईएसआईएस को मिटाने के लिए एक प्लान तैयार करें.

उन्होंने अमेरिका के लोगों से कहा कि हम एक हैं, हमारा खून एक है, हमें एक ही भगवान ने बनाया है. हमारा उद्देश्य भी एक है. हम दुनिया में शांति चाहते हैं, युद्ध नहीं.

कुछ मुद्दों पर अपनी विवादित छवि बदलने की कोशिश भी की. उन्होंने कहा कि वह जो भी बोल रहे हैं, दिल से बोल रहे हैं. उन्होंने कहा कि वह एकता और ताकत का संदेश देने आए हैं.

ट्रंप ने कहा कि ओबामा प्रशासन द्वारा लागू किए गए ओबामाकेयर को खत्म कर नए सुदृढ़ स्वास्थ्य योजना को लागू करेंगे. उन्होंने कहा कि कीस्टोन और डकोटा एक्सेस पाइपलाइन का काम फिर शुरू होगा. उन्होंने कहा कि हमने ऐसे ट्रांस-पैसिफिक समझौतों से अमेरिका को वापस कर लिया है जिससे यहां पर नौकरियों को नुकसान हुआ है.

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi