S M L

लाहौर में आत्मघाती हमला, छह की मौत, 18 घायल

हमलावर सेना के वाहन के नजदीक पैदल ही आया था और उसके बाद उसने खुद को उड़ा लिया

Bhasha | Published On: Apr 05, 2017 05:56 PM IST | Updated On: Apr 05, 2017 05:56 PM IST

लाहौर में आत्मघाती हमला, छह की मौत, 18 घायल

लाहौर में जनगणना दल की सुरक्षा में तैनात पाकिस्तानी जवानों पर हमला किया गया है. इस हमले में छह लोगों की मौत हो गई और 18 अन्य लोग घायल हो गए. मृतकों में पाकिस्तान के चार जवान भी शामिल हैं. इस हमले को एक युवा आत्मघाती हमलावर ने अंजाम दिया.

 धमाका कहां हुआ?

यह धमाका पंजाब प्रांत की प्रांतीय राजधानी लाहौर के छावनी इलाके के नजदीक हुआ.

पंजाब प्रांत की सरकार के प्रवक्ता मलिक मोहम्मद खान ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा, ‘मारे गए छह लोगों में सेना के चार जवान शामिल हैं. धमाके में लगभग एक दर्जन लोग घायल हुए हैं. घायलों को कम्बाइंड मिल्रिटी हॉस्पिटल और लाहौर स्थित जनरल हॉस्पिटल में भेजा गया है.’

घटनास्थल से कुछ फुटेज और तस्वीरें मिली है. जिनमें देखा जा सकता है कि धमाके में दो वैन और एक मोटरसाइकिल क्षतिग्रस्त हो गए है.

अभी तक किसी भी आतंकी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है.

खान ने बताया कि इलाके में घेराबंदी कर ली गई है. कानून प्रवर्तन एजेंसियां सबूत जुटाने के लिए घटनास्थल पर पहुंच गई हैं.

कब हुआ धमाका ?

यह धमाका तब हुआ जब सेना के जवानों की सुरक्षा में एक दल जनगणना के आंकड़े जुटा रहा था. पाकिस्तान में बीते 19 सालों में यह पहली जनगणना हो रही है. इसकी शुरूआत मार्च से हुई.

लाहौर में सुरक्षा बलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है.

लाहौर पुलिस के एक सूत्र ने बताया कि युवा आत्मघाती हमलावर सेना के वाहन के नजदीक पैदल ही आया था और उसके बाद उसने खुद को उड़ा लिया.

सूत्र ने कहा, ‘आत्मघाती हमलावर का धड़ से अलग हो चुका सिर मिला है. ऐसा लगता है कि हमले में आठ से दस किलो विस्फोटकों का इस्तेमाल हुआ था.’

प्रत्यक्षदर्शी तैमुर शाहिद ने बताया कि वह घटनास्थल के नजदीक एक दुकान पर सामान लेने जा रहा था. तभी उसने कुछ मीटर की दूरी पर तेज धमाके की आवाज सुनी.

चार की हालत गंभीर

तैमुर ने कहा, ‘मैं घटनास्थल पर पहुंचा तो वहां देखा कि कुछ सैनिक खून में लथपथ पड़े हैं. स्थानीय लोगों ने उन्हें नजदीकी अस्पतालों में पहुंचाया. बाद में घटनास्थल पर बचाव दल और सेना के अधिकारी पहुंच गए जिन्होंने इलाके में घेराबंदी की.’

पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री इमरान नजीर ने कहा कि घायलों में से चार की हालत गंभीर है. विस्फोट के समय पाकिस्तान वायुसेना का एक अधिकारी अपनी पत्नी के साथ मोटरसाइकिल से वहां से गुजर रहा था. चार मृतक जवानों में वह भी शामिल है.

लाहौर कॉर्प्स कमांडर सादिक अली ने कहा कि ऐसे कायराना हमलों से लोगों को डराया नहीं जा सकता और आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी.’

कानून मंत्री राणा सानाउल्लाह ने कहा कि पाकिस्तान में आतंकवाद तब तक खत्म नहीं होगा जब तक कि अफगानिस्तान में जमातउल अहरार और अन्य आतंकी संगठनों के आतंकी शिविरों का सफाया नहीं हो जाता.

पहले भी हो चुका है हमला

लाहौर में 23 फरवरी को भी विस्फोट हुआ था. जिसमें आठ लोगों की मौत हो गई थी और 30 लोग घायल हो गए थे. इसी महीने पुलिस अधिकारियों को निशाना बनाकर किए गए हमले में 13 लोगों की मौत हो गई थी. जिनमें से छह पुलिसकर्मी थे. इस हमले की जिम्मेदारी जमातउल अहरार ने ली थी.

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi