S M L

चीनी मीडिया की धमकी: युद्ध हुआ तो 1962 से बुरे होंगे नतीजे

चीन ने दी भारत को धमकी कहा एक बार फिर भारत को सबक सिखाने का वक्त आ गया

FP Staff Updated On: Jul 05, 2017 02:29 PM IST

0
चीनी मीडिया की धमकी: युद्ध हुआ तो 1962 से बुरे होंगे नतीजे

भारत और चीन के बीच सिक्किम को लेकर चल रहे विवाद के बीच चीनी मीडिया ने युद्ध की धमकी दी है. चीन के सरकारी अखबार द ग्लोबल टाइम्स ने लिखा, 'भारत को एक बार फिर सबक सिखाने का वक्त आ गया है, इस बार युद्ध हुआ तो नतीजे 1962 से भी बुरे होंगे.' चीन और भारत के बीच हुए 1962 के युद्ध में भारत की हार हुई थी.

चीनी अखबार का यह बयान रक्षा मंत्री अरुण जेटली के बयान के बाद आया है. पिछले दिनों में चीन ने भारत को 1962 के युद्ध में भारत की हार याद दिलाई थी. इसके बाद रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने कहा था कि भारत को 1962 वाला देश समझने की भूल चीन को नहीं करनी चाहिए.

उन्होंने कहा था कि 1962 और 2017 के भारत में बहुत अंतर है, अब वक्त बदल चुका है. वहीं भारतीय सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा था कि भारत चीन से युद्ध के लिए तैयार है.

इससे पहले चीन के राजदूत लुओ झाओहुई ने कहा था कि सीमा पर दोनों देशों के बीच तनाव को दूर करने की जिम्मेदारी भारत की है.

क्या है मामला?

चीन सिक्किम क्षेत्र में आने वाले भूटान के डोका ला तक सड़क निर्माण कर रहा है. डोका ला को चीन, भूटान और भारत का मिलन बिंदु माना जाता है. चीन इसे अपना इलाका मानता है जबकि भारत और भूटान इसे भूटान का इलाका मानते हैं. भारतीय सेना ने भूटान की मदद करते हुए इस इलाके में घुसकर सड़क निर्माण को बाधित किया था. इसके बाद से चीन लगातार घुसपैठ के दावे कर रहा है. दोनों देशों की सेना के बीच धक्का-मुक्की की खबरें भी आई थीं.

वहीं चीन ने नाथू ला पास पर स्थित भारत के बंकर ध्वस्त कर दिए थे, जिसके चलते इस रास्ते से कैलाश मानसरोवर यात्रा को रद्द करना पड़ा. इसके बाद से ही दोनों देशों के बीच युद्ध की स्थिति बनी हुई है. भारत के लिए डोका ला पर चीन का सड़क निर्माण रोकना इसलिए भी आवश्यक है कि सड़क बनने के बाद युद्ध की स्थिति में चीनी सेना भारत की सीमा तक आसानी से पहुंच सकती है.

साभार न्यूज़ 18

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi