S M L

स्नैपचैट सीईओ के बयान से नाराज हुए भारतीय हैकर, लीक किया यूजर डाटा

स्नैपचैट के सीईओ इवान स्पीगल ने भारत को गरीब देश बताया था

FP Staff | Published On: Apr 17, 2017 08:23 AM IST | Updated On: Apr 17, 2017 08:25 AM IST

स्नैपचैट सीईओ के बयान से नाराज हुए भारतीय हैकर, लीक किया यूजर डाटा

कुछ अनाम भारतीय हैकरों का दावा है कि उन्होंने स्नैपचैट को हैक कर उसके 17 लाख यूजर का डाटा लीक कर दिया है. हालांकि यह हैकिंग पिछले साल की गई थी लेकिन डाटा को अब लीक किया है. यह दावा स्नैपचैट के सीईओ इवान स्पीगल के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने भारत को 'गरीब देश' बताया था.

इंडिया टुडे की खबर के मुताबिक, हैकर्स ने पिछले साल स्नैपचैट की सुरक्षा में सेंध लगाई थी. स्पीगल के बयान से नाराज हैकरों ने अब यह डाटा लीक कर दिया है. खबर के मुताबिक डाटा डार्कनेट पर लीक किया गया है.

ये भी पढ़ें: भारत को गरीब देश बताना स्नैपचैट के सीईओ को पड़ा महंगा

खबर में हैकर्स के हवाले से कहा गया है कि उन्हें स्नैपचैट की सुरक्षा में इस समस्या का पहले से पता था लेकिन उन्होंने इस डाटा को कभी इस्तेमाल नहीं किया था. हालांकि हैकर्स का कहना है कि स्पीगल के बयान के बाद वह नाराज हैं और इसलिए डाटा लीक कर दिया गया है. उन्होंने स्पीगल से माफी की मांग करते हुए कहा कि ऐसा नहीं होने पर वह स्नैपचैट पर और हमले करेंगे.

वैसे स्नैपचैट ने हैकिंग या डाटा लीक की पुष्टि नहीं की है.

जानकारी के मुताबिक, भारत में करीब 40 लाख लोग स्नैपचैट का इस्तेमाल करते हैं. स्नैपचैट के सीईओ स्पीगल के भारत को लेकर दिए गए विवादित बयान के बाद ऐप को बड़ा झटका लगा है. स्नैपचैट की गूगल ऐप स्टोर पर पांच स्टार वाली रेटिंग एक स्टार पर आ गई है. स्पीगल के बयान के बाद कई भारतीय यूजर्स ने ऐप को खराब रेटिंग दी है. ऐसा करने की अपील वायरल है और बड़ी संख्या में लोग स्नैपचैट आलोचना कर रहे हैं.

अमेरिका की एक न्यूज वेबसाइट वैरायटी के अनुसार, शनिवार को स्नैपचैट के पुराने कर्मचारी एंटोनियो पोमपिआनो ने बताया कि कंपनी के सीईओ इवान स्पीगल ने सितंबर 2015 को उनसे कहा था कि यह ऐप केवल अमीर लोगों के लिए है. मैं इसे गरीब देशों जैसे भारत और स्पेन में नहीं ले जाना चाहता.

ये भी पढ़ें: स्नैपचेट के हिस्से की मलाई लूटता फेसबुक!

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi