S M L

रैनसमवेयर साइबर अटैक दुनिया के लिए चेतावनी है: माइक्रोसॉफ्ट

दुनियाभर के 150 देशों में कंप्यूटरों पर शुक्रवार को रैनसमवेयर वायरस से हमला किया गया था

FP Staff | Published On: May 15, 2017 08:07 AM IST | Updated On: May 15, 2017 08:07 AM IST

0
रैनसमवेयर साइबर अटैक दुनिया के लिए चेतावनी है: माइक्रोसॉफ्ट

माइक्रोसॉफ्ट के अध्यक्ष ब्रैड स्मिथ ने दुनियाभर की सरकारों से अपील की है कि वे शुक्रवार से शुरू हुए साइबर हमलों को चेतावनी के रूप में लें. उन्होंने कहा कि ये खबरें काफी चौंकाने वाली हैं कि इस हमले की जड़ें अमरीकी राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी यानी एनएसए से जुड़ी हैं. उन्होंने कहा कि सरकारों को साइबर हमलों और हथियारों के प्रति अपने रुख में बदलाव करने की ज़रूरत है.

दुनियाभर के 150 देशों में कंप्यूटरों पर शुक्रवार को रैनसमवेयर वायरस से हमला किया गया था. ये वायरस कंप्यूटर्स में रखी फाइलों पर नियंत्रण कर लेता है और इन्हें लौटाने के बदले फिरौती की मांग करता है.

CyberAttack

बीबीसी की खबर के मुताबिक, सोमवार को जब लोग दफ्तरों में अपने काम पर लौटेंगे तो उनके कंप्यूटर्स पर भी रैनसमवेयर के हमले का खतरा है. कई कंपनियां ने साइबर एक्सपर्ट के जरिए वायरस को निष्क्रिय करने के काम पर लग गई हैं.

रविवार को माइक्रोसॉफ्ट ने एक बयान जारी कर कंप्यूटर सिस्टम में सुरक्षा से जुड़ी जानकारी रखने के सरकारों के तरीके की आलोचना की. 'सीआईए की अतिसंवेदनशील सूचनाओं को विकीलीक्स ने चुराया और अब एनएसए से ऐसी ही संवेदनशील सूचनाएं चोरी होने से दुनियाभर में कंप्यूटर्स प्रभावित हुए हैं.'

अप्रैल 2017 में हैकिंग समूह शैडोब्रोकर्स ने इस तरह के वायरस का एक बड़ा हिस्सा लीक किया था. शुक्रवार को हुए साइबर हमले में इस्तेमाल हुए रैनसम या फिरौती वायरस के कुछ हिस्से इस लीक से मिलते-जुलते पाए गए हैं.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi